राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, शाह और राहुल ने पर्रिकर के निधन पर जताया शोक

नई दिल्ली : गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत तमाम राजनीतिक दल के नेताओं और केंद्रीय मंत्रियों ने गहरा शोक व्यक्त किया है। राष्ट्रपति कोविंद ने अपने शोक संदेश में कहा कि पर्रिकर सार्वजनिक जीवन में ईमानदारी और समर्पण के प्रतीक थे। उनके निधन की खबर से उन्हें गहरा दुख हुआ है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने ट्विटर पर जारी शोक संदेश में कहा कि मनोहर पर्रिकर एक अद्वितीय नेता थे। एक सच्चे देशभक्त और असाधारण प्रशासक, वह सभी की प्रशंसा करते थे। मोदी ने उन्हें आधुनिक गोवा का निर्माता बताते हुए कहा कि उनके रक्षामंत्री कार्यकाल में देश की रक्षा क्षमताओं के विस्तार के लिए अनेक महत्वपूर्ण फैसले हुए थे। उनके कार्यकाल में स्वदेशी रक्षा उत्पादन को बढ़ावा मिला और पूर्व सैनिकों के हितों के लिए कई अहम फैसले लिए गए।

मोदी ने कहा कि राष्ट्र के प्रति पर्रिकर की त्रुटिहीन सेवा को पीढ़ियों द्वारा याद किया जाएगा। मोदी ने कहा कि पर्रिकर के निधन से गहरा दुख हुआ। प्रधानमंत्री ने पर्रिकर के परिवार और समर्थकों के प्रति संवेदना व्यक्त की।भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने ट्वीट कर कहा कि मनोहर पर्रिकर जी का निधन बेहद दुखद है और राष्ट्र ने एक ऐसे सच्चे देशभक्त को खो दिया, जिसने नि:स्वार्थ रूप से अपना पूरा जीवन देश और विचारधारा को समर्पित कर दिया। शाह ने कहा कि पर्रिकर की अपने लोगों और कर्तव्यों के प्रति प्रतिबद्धता अनुकरणीय थी। वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर के निधन पर गहरा शोक जताते हुए कहा कि उन्होंने एक गंभीर बिमारी का लंबे समय तक बहादुरी से सामना किया। राहुल ने ट्विटर पर जारी अपने शोक संदेश में कहा कि मनोहर पर्रिकर के निधन से वो बहुत दुखी हैं। उन्होंने कहा कि पर्रिकर ने एक साल से अधिक समय तक एक गंभीर बीमारी का बहादुरी के साथ सामना किया। पर्रिकर गोवा के सबसे चहेते बेटे थे। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि वह पार्टी लाइन से ऊपर उठकर उनका सम्मान करते थे।

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि पर्रिकर को उनकी ईमानदारी, निष्ठा और सादगी के लिए जाना जाता है। उन्होंने बड़ी लगन के साथ देश और गोवा राज्य की सेवा की। विदेश राज्यमंत्री जनरल वीके सिंह ने कहा कि पर्रिकर के निधन से हमारे जीवन में एक शून्य आ गया है। वह एक ऐसा नेता थे जो सबसे जटिल समस्याओं के लिए व्यावहारिक समाधान लेकर रखते थे। उनके निधन से गोवा और देश को बड़ी क्षति पहुंची है। नितिन गडकरी ने ट्विटर पर अपने शोक संदेश में कहा, ‘नि:शब्द हूं। सुशील और सादगीपूर्ण राजनेता का चेहरा आज खो गया। मनोहर भाई सही मायने में हर कार्यकर्ता के हृदय पर राज करने वाले थे। राजनीति के शुरुआती दिनों में वो मेरे साथी और सच्चे मित्र थे। गोवा के विकास के लिए आखिरी सांस तक संघर्ष करने वाले भारत में के इस महान सपूत को मेरी भावभीनी श्रद्धांजलि।’ केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी, राज्यवर्धन सिंह राठौर समेत तमाम केंद्रीय मंत्रियों और नेताओं ने शोक जताया है।

Loading...
IGNITED MINDS