कर्नाटक के 10 जिलों में कांग्रेस का कब्जा, 7 BJP और 3 JDS के हाथ में

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में कांग्रेस भले ही हार गई थी, लेकिन निकाय चुनाव में वह सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी है. राज्य के 22 जिलों की 105 निकाय चुनाव के 2662 वार्डों के आए नतीजों में कांग्रेस ने सबसे बेहतर प्रदर्शन किया है.कर्नाटक के 10 जिलों में कांग्रेस का कब्जा, 7 BJP और 3 JDS के हाथ में

राज्य की 10 जिलों के शहरों पर कांग्रेस ने कब्जा जमाया है. वहीं, 6 जिलों में बीजेपी, 3 जिलों में जेडीएस, एक जिले में निर्दलीयों का कब्जा है. जबकि 2 सीट ऐसी है, जहां कांग्रेस, बीजेपी और जेडीएस में से किसी भी पार्टी को बहुमत नहीं मिला है.

निकाय चुनाव में, कांग्रेस ने कुल 2,662 सीटों में से 982 सीटें जीत ली है. कांग्रेस ने उत्तरी जिलों में अपनी बादशाहत कायम रखी है. प्रदेश 22 जिलों में से 10 जिलों में बेल्लारी, बिदर, गडक, मैसुरू, उत्तर कन्नड़, हावेरी, कलबुर्गी, यदगिर और रायचुर में कांग्रेस ने सबसे ज्यादा सीट जीतकर कब्जा जमाया है.

कांग्रेस के सहयोग से कर्नाटक की सत्ता पर काबिज जेडीएस 375 सीटें जीतन में कामयाब रही है. वे अपने मजबूत गढ़ को बचाने में कामयाब रही है. मुख्यमंत्री कुमारस्वामी के वर्चस्व वाले जिले हासन, मांड्या और तुमकुर में बहुमत हासिल किया है.

विधानसभा चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरने वाली बीजेपी ने 929 सीटों पर जीत हासिल की है. नतीजे को देखें तो बीजेपी ने तटीय जिलों के अपने पारंपरिक गढ़ में अच्छा प्रदर्शन किया है. वह तटीय उडुपी, बगलकोट, दक्षिण कन्नड़, चित्रदुर्ग, देवानागरे और शिवमोगा जिले में बहुमत हासिल करने में कामयाब रही है.

प्रदेश के 22 जिलों में निर्दलीय उम्मीदवारों ने कुल 329 सीटें जीती हैं, वहीं अन्य क्षेत्रीय संगठनों को 34 सीटें मिली है. जबकि बसपा 13 सीटें जीतने में कामयाब रही.

राज्य के उत्तरी क्षेत्र के विजयपुरा जिले में कुल 23 सीटों में से कांग्रेस और बीजेपी दोनों ने आठ-आठ सीटों पर कब्जा किया, वहीं जद(एस) ने दो सीटें तो निर्दलीयों ने पांच सीटों पर कब्जा किया है. इसके अलावा उत्तर कन्नड़ में कुछ इसी तरह के नतीजे रहे हैं, जहां कांग्रेस को 87 और बीजेपी को 84 सीटें मिली है. जबकि 8 सीटें जेडीएस और 20 सीटें अन्य के खाते में गई है.

बेलगावी जिले में कांग्रेस और बीजेपी से ज्यादा निर्दलीय उम्मीदवारों ने जीत हासिल की है. जिले की 343 सीटों में से बीजेपी को 104, कांग्रेस 85 और निर्दलीय 144 सीटों पर जीत हासिल की है.

हालांकि जेडीएस पहले ही कह चुकी है कि अगर किसी सीट पर खुद के दम पर बहुमत हासिल नहीं कर पाएगी तो, कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन करके बीजेपी को बाहर रखेंगे

Loading...
IGNITED MINDS