जोफ्रा आर्चर बोले- कप्तान जो रूट ने हमको बोला है कि अब भारत से डरने की जरूरत नहीं है

इंग्लैंड की टीम भारत के खिलाफ चार मैचों की टेस्ट सीरीज का दूसरा और तीसरा मैच हारने के बाद आइसीसी वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल की रेस से बाहर हो गई है। ऐसे में इंग्लैंड की टीम कम से कम सीरीज बराबर करने के इरादे से मैदान पर होगी। यही बात इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जोफ्रा आर्चर ने कही है कि अब हमारे पास खोने के लिए कुछ नहीं है, क्योंकि हम विश्व टेस्ट चैंपियनशिप की रेस से बाहर हो चुके हैं।

भारत में स्पिन होती गेंदों को लेकर जोफ्रा आर्चर ने डेली मेल को लिखे अपने कॉलम में कहा है, “हम इंडिया में हैं और हमको इस बात की उम्मीद रखनी चाहिए कि गेंद स्पिन होगी, लेकिन कप्तान जो रूट ने हमको बोला है कि अब हमारे पास खोने के लिए कुछ नहीं है। ऐसे में हमें निडर रूप से क्रिकेट खेलने की जरूरत है और मैं जॉन लेविस को हमारे नए गेंदबाजी कोच के रूप में देखकर खुश हूं कि दो साल उनके साथ रहे!”

इंग्लैंड को तीसरे टेस्ट मैच में 10 विकेट से हार मिली थी। इस बारे में जोफ्रा आर्चर ने कहा है कि मैं इंग्लैंड की क्वालिटी पर सवाल नहीं उठा सकता। मेरा हमेशा से मानना रहा है कि जैसी भी परिस्थिति हो, आपको उनको मुताबिक खेलना चाहिए और उन परिस्थितियों का तोड़ निकलने में सक्षम होना चाहिए। फिर ये बात मायने नहीं रखती कि गेंद बाउंस हो रही है या फिर स्पिन। मेरे लिए ये मायने नहीं रखता कि हम किस पिच पर खेल रहे हैं।

पिंक बॉल से खेला गया तीसरा टेस्ट मैच दो दिन में समाप्त हो गया था। इस बात को लेकर तमाम दिग्गज क्रिकेटरों ने सवाल उठाए, लेकिन आर्चर का कहना है कि दिन-रात वाले मैचों में ऐसा होता है। मैंने तीन साल पहले घरेलू क्रिकेट में पिंक बॉल से खेला था, जो मैच दो दिन में समाप्त हो गया था। इसलिए इसमें बड़ी बात नहीं है, क्योंकि इंग्लैंड में भी पांच सेशन में मैच खत्म हो जाता है। हम इंडिया में हैं तो हमें उम्मीद रखनी चाहिए कि गेंद स्पिन होगी।

 

Loading...
IGNITED MINDS