पीलीभीत में पिस्टल दिखा रोकी स्कूल बस, दो घंटे तक बच्चों को बनाया बंधक

पीलीभीत। पहले निकलने की होड़ में ट्रैक्टर सवार दो भाइयों ने आधा दर्जन साथियों के साथ स्कूल बस को बंधक बना लिया। रास्ते में ट्रैक्टर खड़ा करके पिस्टल तान दी। आरोप है कि बच्चों के अपहरण का प्रयास किया। विरोध करने पर बस ड्राइवर की पिटाई कर दी। करीब दो घंटे तक बच्चे धूप में बंधक बने रहे। स्कूल प्रबंधक की सूचना पर पुलिस ने बस को रवाना कराया। बाद में दोनों पक्षों के बीच समझौता हो गया। 

गांव कीरतपुर निवासी गुरमीत सिंह मोहनपुर जप्ती में स्थित गुरु नानक एकेडमी की स्कूल बस चलाते हैं। गुरुवार को गुरमीत सुबह 50 बच्चों से भरी बस स्कूल लेकर जा रहे थे। जैसे ही वह किरतपुर स्थित एक धार्मिक स्थल के पास पहुंचे, तभी दो सगे भाइयों ने अपने साथियों की मदद से बस के आगे ट्रैक्टर खड़ा कर दिया।

बस चालक और बच्चों को डराने लिए पिस्तौल तान दी। सीओ कमल सिंह ने बताया कि मार्ग संकरा था। पहले निकलने को लेकर स्कूल बस व ट्रैक्टर चालक में विवाद हो गया। दोनों पक्षों का कोतवाली में फैसला हो गया है। 

Loading...