असमिया फिल्म विलेज रॉकस्टार्स होगी इस बार ऑस्कर्स के लिए भारत की एंट्री

बेस्ट फिल्म का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार पाने वाली रीमा दास की असमिया फिल्म ‘विलेज रॉकस्टार्स’ इस बार के ऑस्कर पुरस्कार समारोह के विदेशी सिनेमा सेक्शन में भारत की ओर से आधिकारिक फिल्म के रूप में चुनी गई है। 

असमिया फिल्म विलेज रॉकस्टार्स होगी इस बार ऑस्कर्स के लिए भारत की एंट्री

91वें ऑस्कर फिल्म पुरस्कार अगले साल 24 अप्रैल को लॉस एंजिलिस के कोडक थियेटर में दिए जायेंगे l अॉस्कर पुरस्कार समारोह के लिए भारत की ओर से आधिकारिक फिल्मों की रेस में पद्मावत और संजू जैसी सुपरहिट फिल्मों के नाम शामिल रहे। इसकी आधिकारिक घोषणा आज फिल्म फेडरेशन अॉफ इंडिया द्वारा की गई।  रीमा दास निर्देशित फिल्म विलेज रॉकस्टार्स इस बार विदेशी सिनेमा केटेगरी में भारत की ओर से आधिकारिक फिल्म के रूप में चुनी गई है। आपको बता दें कि, एस वी राजेन्द्र सिंह बाबू के नेतृत्व में बनी 12 सदस्यों की जूरी ने इस फिल्म को चुना । रीमा दास की फिल्म विलेज रॉकस्टार्स दस साल की एक बच्ची की कहानी है, जिसका सपना एक रॉक बैंड बनाने का होता है बनिता दास ने इस लड़की का किरदार निभाया है जो बैंड बनाने के लिए गाँव के एक इलेक्ट्रानिक गिटार की खोज में निकल पड़ती है l कलारदिया गाँव में हैंडकैम से शूट की गई और बिना किसी नामी कलाकारों के बनाई गई इस फिल्म का बजट बेहद ही मामूली रहा

पिछले साल की बात करें तो राजकुमार राव और पंकज त्रिपाठी स्टारर फिल्म न्यूटन ने भारत से अॉस्कर में एंट्री की थी। 

भारत की ओर से ऑस्कर में जब से फॉरेन सेक्शन शुरू हुआ है तब से सिर्फ तीन फिल्में आखिरी राउंड तक पहुंची हैं, जिनमें महबूब खान की मदर इंडिया, मीरा नायर की सलाम बॉम्बे और आशुतोष गोवारिकर की लगान शामिल हैं।

Loading...
IGNITED MINDS