वेलिंगटन जूट मिल के सीईओ के घर पर श्रमिकों ने किया हमला

हुगली। हुगली जिले के श्रीरामपुर थाना इलाके में स्थित वेलिंगटन जूट मिल के बेलगाम श्रमिकों ने जूट मिल के सीईओ एस के खेलवाड़ के घर पर शनिवार सुबह हमला बोल दिया। इस दौरान सीईओ के घर के बाहर खड़ी गाड़ियों को तोड़ दिया गया और उनके घर में भी तोड़फोड़ की गई। सीईओ के घर के बाहर तैनात सिक्योरिटी गार्ड से भी मारपीट की गई। गनीमत यह रही की घटना के समय सीईओ उग्र श्रमिकों के हाथ नहीं लगे, अन्यथा बड़ी अनहोनी हो सकती थी। घटना की सूचना मिलने पर श्रीरामपुर थाने क पुलिस मौके पर पहुंची और परिस्थिति को काबू किया। फिलहाल जूट मिल के गेट और जूट मिल परिसर में बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात है।

सीईओ के घर के बाहर तैनात सिक्योरिटी गार्ड रघुनंदन प्रसाद गुप्ता ने बताया कि शनिवार सुबह साढ़े छह बजे तकरीबन दो सौ श्रमिकों का एक झुंड सीईओ के घर के सामने आया और उनसे पूछने लगा कि सीईओ कहां है। उन्होंने बताया कि सीईओ और मैनेजमेंट के अन्य अधिकारियों के साथ अपने कार्यालय में हैं। इतना सुनने के बाद आक्रोशित श्रमिकों ने सिक्योरिटी गार्ड को धमकी दी, उनके साथ मारपीट की और सीईओ के घर और संलग्न इलाकों में जमकर तोड़फोड़ करने लगे। कुछ देर उत्पात मचाने के बाद वे वहां से चले गये।

वेलिंगटन जूट मिल के श्रमिक शम्भू मांझी ने बताया कि पिछले नौ महीने से जूट मिल के श्रमिक बहुत परेशान हैं। पिछले महीने की नौ तारीख को कारखाने के गेट से अनिश्चितकालीन कार्यस्थगन का नोटिस तो हट गया लेकिन इसके बावजूद कारखाने में ज्यादातर श्रमिकों को काम नहीं मिल रहा था। शनिवार को जब श्रमिक कारखाने में काम करने पहुंचे तो फिर ज्यादातर श्रमिकों को काम नहीं मिला। इसके बाद सभी श्रमिकों ने फैसला किया कि कारखाने काम करेंगे तो सभी करेंगे नहीं तो कोई भी श्रमिक काम नहीं करेगा। सीईओ के घर पर हुए तोड़फोड़ के बारे में श्रमिक ने कहा कि तोड़फोड़ की कोई घटना नहीं घटी है। सीईओ ने अपने लोगों से श्रमिकों को बदनाम करने के लिए तोड़फोड़ करवाया है।

वेलिंगटन जूट मिल के सीईओ एस के खेलवाड़ के अनुसार कारखाने के कुछ अराजक तत्व श्रमिकों के साथ मिलकर उन्हें जान से मारने की साजिश रच रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि शनिवार सुबह उनकी हत्या के उद्देश्य से ही दो सौ लोगों की भीड़ ने उनके घर में तांडव मचाया और लूटपाट की। सौभाग्य से वे मौके पर नहीं थे नहीं तो उनकी हत्या होनी तय थी। सीईओ ने बताया कारखाने में इस दौरान डकैती भी हुई और हमलावर कारखाने से तकरीबन एक करोड़ रुपये से अधिक कीमत का लोहा और तांबा लेकर चले गए। प्रबंधन की ओर से श्रीरामपुर थाने में मामले की लिखित शिकायत दर्ज करवाई गई है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

फिलहाल कारखाने के गेट पर और कारखाने के भीतर बड़ी संख्या में पुलिस बल तैनात है। पुलिस हमलावरों का पता लगाने में जुटी है। वेलिंगटन जूट मिल में फिलहाल काम बंद है।

Loading...