समाजवादी पार्टी से दो बार विधायक रहे कालीचरण राजभर ने बीजेपी का दामन थामा

लखनऊ। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में रविवार को समाजवादी पार्टी सहित भारतीय संघर्ष समाज पार्टी, महाराज सुहेलदेव सेना, सुभासपा सहित विभिन्न दलों के लोगों ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष व ज्वाइनिंग कमेटी के अध्यक्ष डॉ. लक्ष्मीकांत बाजपेयी, प्रदेश सरकार के मंत्री बृजेश पाठक, अनिल राजभर सांसद सकलदीप राजभर, अशोक बाजपेयी, विधायक विजय राजभर, पूर्व सांसद हरिनारायण राजभर व प्रदेश उपाध्यक्ष ज्वाइनिंग कमेटी के सदस्य दयाशंकर सिंह ने विभिन्न दलों से आये नेताओं को पटका पहनाकर भाजपा परिवार में शामिल कराया।

समाजवादी पार्टी से दो बार विधायक रहे व 2017 में बसपा से विधानसभा चुनाव प्रत्याशी रहे तथा वर्तमान में समाजवादी पार्टी के नेता श्री कालीचरण राजभर ने अपने समर्थकों के साथ बड़ी संख्या में भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। इसके साथ ही भारतीय संघर्ष पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री मदन राजभर, महाराजा सुहेलदेव के वंशज व तीन बार से निर्दलीय जिला पंचायत सदस्य श्री मोल्हू राजभर, सुभासपा के प्रमुख महासचिव श्री ज्ञान भारद्वाज (राजभर), महाराजा सुहेलदेव पार्टी के जिलाध्यक्ष श्री बब्बन राजभर, उपाध्यक्ष श्री सुशील राजभर के साथ सैंकड़ों की संख्या में समर्थंकों ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डा. लक्ष्मीकान्त बाजपेयी ने भाजपा परिवार में आये हुए सभी लोगों का अभिनन्दन करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी तथा मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में पुनः उत्तर प्रदेश में भाजपा प्रचंड बहुमत के साथ वापसी करेगी। उन्होंने कहा कि 2014, 2017 व 2019 के आमचुनाव में विपक्ष अपने सभी हथकंडे अपना चुका है और हर तरह के गठबंधनों का बेमेल प्रयोग कर चुका है। उत्तर प्रदेश का जनमानस सबका साथ-सबका विकास व सबका विश्वास की प्रतिबद्धता के साथ है। सपा-बसपा व कांग्रेस के परिवारवाद, भ्रष्टाचार, जातिवाद, तुष्टिकरण को जनता बार-बार नकार चुकी है। भाजपा में साधारण कार्यकर्ता भी किसी भी शीर्ष पद पर पहुंच सकता है।

प्रदेश सरकार के मंत्री श्री बृजेश पाठक ने कहा कि भाजपा जन-जन की समृद्धि से राष्ट्र की समृद्धि का संकल्प लेकर गांव, गरीब, किसान की खुशहाली के लिए संकल्पित है।

प्रदेश सरकार के मंत्री श्री अनिल राजभर ने कहा कि राष्ट्रवीर महाराज सुहेलदेव ने जिन विदेशी आक्रान्ताओं के विरूद्ध जीवन पर्यन्त युद्ध किया और उन्हें पराजित किया। उन महाराज सुहेलदेव के नाम पर राजनीति करने वाले लोग अब विदेशी आक्रान्ताओं की मजारों पर चादर चढ़ाने जा रहे है। गौरवशाली उत्तर प्रदेश ऐसे लोगों को सबक सिखाएगा।

Loading...