दक्षिण अफ्रीका में कोविड की ओरल वैक्सीन का ट्रायल शुरू

जोहांसबर्ग। दक्षिण अफ्रीका में कोविड-19 की ओरल वैक्सीन का ट्रायल शुरू हो गया है। यह वैक्सीन अमेरिकी-इजराइली दवा कंपनी ओरामेड की सहायक ओरावैक्स मेडिकल इंक द्वारा तैयार किया गया है। वहीं वैक्सीन को लेकर इंटरनेट में भ्रम की स्थिति के कारण दक्षिण अफ्रीका में टीकाकरण अभियान प्रभावित हो रहा है। वर्तमान में वैक्सीन का विरोध करने वालों में कुछ राजनीतिक दल भी शामिल हैं।

ओरामेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी नदाव किद्रों ने कहा कि ओरल वैक्सीन के ट्रायल के बीच दक्षिण अफ्रीका में कोविड के केस बढ़ रहे हैं। वहीं देश को पर्याप्त मात्रा में कोविड वैक्सीन नहीं मिलने के कारण मुश्किलों को सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा कि हमारा यह दृढ़ विश्वास है कि ओरल वैक्सीन के वितरण में आसानी होगी तथा दक्षिण अफ्रीका और उसके जैसे देशों में टीकाकरण दर बढ़ाने में काफी मदद मिलेगी।

ओरल वैक्सीन का परीक्षण उन लोगों पर किया जा रहा है, जिन्होंने न तो टीके लगवाए हैं और न ही कोरोना संक्रमित हुए हैं। प्रतिभागियों को परीक्षण की शुरुआत में ओरल वैक्सीन की एक खुराक और तीन सप्ताह बाद दूसरी खुराक दी जाएगी। ओरावैक्स मेडिकल इंक की स्थापना इस साल की शुरुआत में ओरामेड फार्मास्युटिकल्स और अन्य शेयरधारकों द्वारा बाजार में एक कोरोना की ओरल वैक्सीन लाने के मिशन के साथ की गई थी। कंपनी के पास ओरल दवाओं को निर्मित करने में विशेषज्ञता हासिल है। ओरमेड वर्तमान में डायबटीज के इलाज के लिए पहले ओरल इंसुलिन कैप्सूल का परीक्षण कर रहा है। इसका ट्रायल एडवांस स्टेज में चल रहा है।

Loading...