कोविड महामारी के समय सर्वाधिक प्रवासी जनपद जौनपुर में आए

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता एवं केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के कर-कमलों से आज जनपद जौनपुर में 1,538 करोड़ रुपए की लागत तथा 86 किलोमीटर लम्बाई के 03 राष्ट्रीय राजमार्गों का शिलान्यास तथा 348 अन्य विकास परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास सम्पन्न हुआ। जिन 03 राष्ट्रीय राजमार्गों की आधारशिला रखी गई है, उनकी लागत 1,123 करोड़ रुपए है। इस अवसर पर 10 लाभार्थियों को प्रमाण-पत्र वितरित किए गए। इनमें किसान, विद्यार्थी और आवास योजना सहित विभिन्न लाभार्थी सम्मलित थे। इसके अलावा, ग्रामीण क्षेत्र के सफाई कर्मचारियों की ऑनलाइन उपस्थिति के ऐप का उदघाटन भी किया गया।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिए भारत की 135 करोड़ की आबादी परिवार के समान है। सभी को आधारभूत सुविधाएं उपलब्ध करायी जा रही हैं, जिससे विश्व में भारत की छवि बदल रही है। उन्होंने केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी के प्रति धन्यवाद ज्ञापित करते हुए कहा कि आजादी के बाद सड़क परिवहन मंत्रालय द्वारा क्रान्तिकारी कार्य किए गए हैं। गडकरी ने पिछले 07 वर्ष के दौरान 03 लाख करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट उत्तर प्रदेश को प्रदान किए हैं, जिन पर युद्धस्तर पर कार्य चल रहा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री के मार्गदर्शन में सड़क, परिवहन के क्षेत्र में अभूतपूर्व कार्य हुए हैं। राम-जानकी मार्ग का विकास तथा रामवनगमन मार्ग पर कार्य किया जा रहा है। जौनपुर को अन्य जनपदों से जोड़ने का कार्य किया जा रहा है। हल्दिया से वाराणसी जलीय मार्ग पूरा किया गया है। कृषि उत्पादन को बढ़ाने और कृषकों को विश्व से जोड़ने का कार्य किया गया है। जनपद जौनपुर के किसानों ने कोरोना कालखण्ड के दौरान बाहर के देशों में सब्जी का निर्यात किया। जौनपुर की इमरती ने विश्व में पहचान बनायी है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने जनसमस्याओं के समाधान का संकल्प लिया है। 05 वर्ष में युवाओं को बड़े पैमाने पर सरकारी नौकरियां दी गई हैं। प्रदेश सरकार द्वारा निष्पक्ष एवं पारदर्शी तरीके से नौजवानों को उनका हक देने का कार्य किया जा रहा है। गांवों का त्वरित गति से विकास किया जा रहा है। निराश्रित महिला, वृद्धावस्था, दिव्यांगजन पेंशन की धनराशि में भी बढ़ोत्तरी की गई। जनपद में मेडिकल कॉलेज में एम0बी0बी0एस0 के छात्रों की इस सत्र में पढ़ाई प्रारम्भ होने वाली है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में कोरोना महामारी के दौरान देश में अभूतपूर्व कार्य किए गए हैं, जो नजीर हैं। समाज के प्रत्येक वर्ग के लिए योजनाएं शुरू की र्गइं। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के समय सर्वाधिक प्रवासी जनपद जौनपुर में आए। प्रत्येक के जीवन को बचाने के साथ ही, उन्हें रोजगार देने का कार्य भी किया गया। जनता को राशन कार्ड, खाद्यान्न एवं शासन की विभिन्न योजनाओं से लाभान्वित कर कामगारों को कार्य उपलब्ध कराया गया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश व प्रदेशवासियों की आस्था का सम्मान करते हुए काशी विश्वनाथ धाम का लोकार्पण किया। साथ ही, उन्होंने श्रमिकों का भी सम्मान किया। देश एवं प्रदेश में श्रमिक, युवा, किसान, सभी का सम्मान हो रहा है। हर तबके को सम्मान देते हुए ‘एक भारत, श्रेष्ठ भारत’ की परिकल्पना को साकार किया जा रहा है। काशी विश्वनाथ धाम इसका उदाहरण है, जहां पर भगवान शिव की पूजा के साथ ही, राष्ट्र की सेवा करने वाले श्रमिक का भी सम्मान किया गया। अयोध्या में भगवान श्रीराम के मन्दिर का निर्माण किया जा रहा है। नए भारत के नए उत्तर प्रदेश में सभी का विकास करते हुए भ्रष्टाचार का उन्मूलन किया जा रहा। भ्रष्टाचारमुक्त उत्तर प्रदेश में विदेशी कम्पनियां निवेश करेंगी, जिससे उत्तर प्रदेश का विकास होगा और सभी को रोजगार मिलेगा।

केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री ने कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि राष्ट्रवाद हमारी आत्मा है, इसको सुदृढ़ बनाना हमारा संकल्प है। भारत में सुशासन हो, जिसमें सभी सुरक्षित रहें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश को सुशासन दिया। महात्मा गांधी जिस रामराज्य की कल्पना करते थे, वह यही रामराज्य है, जिसमें सभी का विकास हो रहा है। कानून व्यवस्था सुदृढ़ होने से निवेश के साथ-साथ रोजगार का सृजन हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सभी को आत्मनिर्भर बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका है। आज उत्तर प्रदेश की तस्वीर बदल रही है। गंगा को अविरल और निर्मल किया जा रहा है।

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि जौनपुर में रिंग रोड के निर्माण से जनपद में मिर्जापुर-अयोध्या से आने-जाने वाले वाहनों के ट्रैफिक जाम में कमी आएगी, जिससे आम जनमानस की समस्या का निदान होगा। मछलीशहर-मड़ियाहूं परियोजना को भारतमाला परियोजना में सम्मिलित कर दिया गया है, जो 06 राष्ट्रीय राजमार्गों को आपस में जोड़ेगा। उन्होंने जौनपुर-सुल्तानपुर, जौनपुर-वाराणसी, जौनपुर-अकबरपुर, अयोध्या-अकबरपुर-अयोध्या जैसी विभिन्न परियोजनाओं को शुरू और पूर्ण कराने का आश्वासन दिया।

केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री ने कहा कि आने वाले समय में जो भी गाड़ियां आएंगी, वह एथेनॉल से चलेंगी। इससे उत्तर प्रदेश के किसानों की स्थिति बदलेगी। उन्होंने कहा कि पर्यावरण प्रदूषण के निदान के लिए ग्रीन हाइड्रोजन महत्वपूर्ण है। यह भविष्य का ईंधन है, जो पर्यावरण प्रदूषण रहित होगा। भविष्य में भारत ग्रीन हाइड्रोजन का उत्पादन और निर्यात करने वाला देश होगा, जिसमें उत्तर प्रदेश के किसानों की भूमिका बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश समृद्ध होगा, तो भारत भी समृद्ध होगा। केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश की तस्वीर को बदलने के लिए लगातार कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि युवाओं, स्कूलों, अस्पतालों सहित सभी का चहुंमुखी विकास किया जा रहा है।

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि केन्द्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्रालय द्वारा उत्तर प्रदेश में 01 लाख 40 हजार करोड़ रुपए के कार्य पूरे किए जा चुके हैं। लगभग 01 लाख 80 हजार करोड़ रुपए के कार्य चल रहे हैं। उत्तर प्रदेश में 03 लाख करोड़ रुपए से अधिक के कार्य कार्यान्वित हो रहे हैं। आने वाले 05 वर्र्षों में प्रदेश के विकास के लिए 05 लाख करोड़ रुपए के निर्माण कार्य कराए जाएंगे।

ज्ञातव्य है कि आज लोकार्पित एवं शिलान्यास की गई परियोजनाओं से जनपद जौनपुर को अत्यधिक लाभ होगा। इससे मिर्जापुर से जौनपुर तक आवागमन के लिए यात्रियों के समय की बचत और जनमानस को ट्रैफिक जाम से निजात मिलेगी। मछलीशहर से प्रयागराज जाने में सुगमता, मिर्जापुर एवं सोनभद्र से अन्य क्षेत्रों तक खदान की माल ढुलाई करवाने में बेहतर सड़क सम्पर्क से गति आएगी एवं निर्माण कार्यों में प्रगति होगी। इस क्षेत्र में सामाजिक एवं आर्थिक विकास, यातायात में समय की बचत, ईधन की बचत, प्रदूषण की कमी, उचित सड़क सुरक्षा, वाहनों की परिचालन क्षमता में वृद्धि, पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए बेहतर कनेक्टिविटी, रोजगार के अवसर में वृद्धि, शहर में ट्रैफिक जाम से निजात, क्षेत्र के सांस्कृतिक एवं धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा। अन्य विकास परियोजनाओं में जनपद जौनपुर में पंचायत भवन, जल जीवन मिशन के अन्तर्गत पाइप पेयजल योजना, वी0वी0 पैट गोदाम, हेल्थ एण्ड वैलनेस सेण्टर, शीतला माता चौकिया धाम पर्यटन का विकास, वृहद गो-संरक्षण केन्द्र, हाई-वे/मेनरोड के किनारे सामुदायिक शौचालय इत्यादि प्रमुख हैं।

शिलान्यास किए गए 03 राष्ट्रीय राजमार्गों में राष्ट्रीय राजमार्ग सं0-135ए, भदोही-मडियाहूँ-जौनपुर मार्ग का चौड़ीकरण एवं निर्माण (कुल लम्बाई-38 कि0मी0, लागत 396 करोड़ रुपए), राष्ट्रीय राजमार्ग सं0-731बी, मछलीशहर-जंघई-भदोही मार्ग के चौड़ीकरण एवं निर्माण (कुल लम्बाई-48 कि0मी0, लागत 700 करोड़ रुपए), जौनपुर शहर में गोमती नदी मेजर ब्रिज का निर्माण (लागत 27 करोड़ रुपए) सम्मिलित हैं। इन राजमार्गों का विकास राष्ट्रीय राजमार्ग खण्ड लोक निर्माण विभाग वाराणसी, उत्तर प्रदेश एवं भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण, परियोजना कार्यान्वयन इकाई द्वारा किया जाएगा।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री तथा केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री को स्मृति चिन्ह भेंट किया गया।

इस अवसर पर प्रदेश के आवास एवं शहरी नियोजन राज्यमंत्री गिरीश चन्द्र यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधिगण तथा शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Loading...