पत्नी से तलाक के लिए दुबई के शासक को देने होंगे 55.10 अरब रुपये हर्जाना

लंदन/दुबई। दुबई के शासक शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम को अपनी छठवीं पत्नी राजकुमारी हया बिंत अल हुसैन से तलाक के लिए हर्जाने के रूप में पत्नी और बच्चों को 55 करोड़ पाउंड का भुगतान करने का ब्रिटेन की एक अदालत ने आदेश दिया है। इस तलाक को ब्रिटिश इतिहास के सबसे महंगे तलाक समझौतों में से एक बताया जा रहा है। भारतीय रुपये में यह राशि 55,10,44,46,595 बैठती है। 72 साल के शेख मोहम्मद बिन राशिद अल मकतूम संयुक्त अरब अमीरात के प्रधानमंत्री भी हैं।

लंदन हाईकोर्ट के न्यायाधीश फिलिप मूर ने कहा कि शेख को पत्नी से तलाक के लिए इस राशि का भुगतान करना होगा। इसके अलावा उनके बच्चों 14 वर्षीय अल जलीला और नौ वर्षीय जायद को 29 करोड़ पाउंड की बैंक गारंटी के तहत भुगतान करना होगा।

अदालत ने कहा कि बच्चों को प्राप्त होने वाली कुल राशि 29 करोड़ पाउंड से अधिक या कम हो सकती है। यह कई तथ्यों पर निर्भर करता है जैसे कि वे कितने समय तक जीवित रहते हैं और क्या वे अपने पिता के साथ मेल-मिलाप करते हैं।

सैंतालीस वर्षीय राजकुमारी हया 2019 में भागकर ब्रिटेन पहुंची थीं और ब्रिटिश अदालतों के माध्यम से अपने दो बच्चों का संरक्षण मांगा था। जॉर्डन के दिवंगत राजा हुसैन की बेटी हया ने कहा कि वह अपने पति से भयभीत थीं, जिन पर आरोप है कि उन्होंने अपनी दो बेटियों की जबरन वापसी का आदेश दिया था।

ब्रिटेन की एक परिवार अदालत के न्यायाधीश ने अक्टूबर में फैसला सुनाया था कि शेख मोहम्मद ने कानूनी लड़ाई के दौरान राजकुमारी हया के फोन को हैक करने का आदेश दिया था। हालांकि, शेख मोहम्मद ने इस आरोप से इनकार किया था।

Loading...