गूगल के सीईओ सुंदर पिचई, वाशिंगटन में करेंगे “ट्रंप” से मुलाक़ात.

गूगल के सीईओ सुंदर पिचई कंपनी के कारोबार के बारे में कांग्रेस (अमेरिकी संसद) के सदस्यों से चर्चा करने के लिए वॉशिंगटन गए हैं और आगामी गोलमेज वार्ता के दौरान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से मुलाकात करने का भी उनका कार्यक्रम है. व्हाइट हाउस के अनुसार, राष्ट्रीय आर्थिक परिषद के प्रमुख लैरी कुडलॉ ने शुक्रवार को पिचई से मुलाकात के दौरान उन्हें ट्रंप से मिलने का निमंत्रण दिया था जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया.

व्हाइट हाउस ने बताया कि गोलमेज वार्ता में अन्य ‘इंटरनेट शेयरधारकों’ को भी आमंत्रित किया जाएगा. अभी वार्ता की तारीख तय नहीं हुई है. गूगल ने अभी इस पर टिप्पणी नहीं की है. ट्रंप ने हाल ही में गूगल पर कंजर्वेटिव विचारों को दबाने के लिए अपने शक्तिशाली सर्च इंजन के परिणामों में हेरफेर का आरोप लगाया था. हालांकि, गूगल ने किसी तरह के राजनीतिक भेदभाव से इनकार किया.

व्हाइट हाउस ने बताया कि कुडलॉ ने पिचई के साथ इंटरनेट और अर्थव्यवस्था पर चर्चा की तथा बातचीत को ‘‘सकारात्मक और रचनात्मक’’ बताया. पिचई का यह वाशिंगटन दौरा ऐसे समय में हो रहा है जब कुछ सप्ताह पहले वह और उनके बॉस गूगल के सह संस्थापक लैरी पेज ने एक जन सुनवाई में नहीं आकर सांसदों को नाराज कर दिया था.

पिचई ने सदन के बहुसंख्यक नेता केविन मैकार्थी के कैपिटल कार्यालय में हुई बैठक में करीब 24 रिपब्लिकन सांसदों से मुलाकात की. रिपब्लिकन सांसदों से मुलाकात से पहले पिचई ने रिपब्लिकन सांसदों से भी मुलाकात करने की अपनी योजना के बारे में बताया.

 

आपको बता दें कि गूगल ने 27 सितंबर को 20 साल का हुआ है. गूगल पूरी दुनिया के लिए नॉलेज का सबसे बड़ा सोर्स बन गया है.  हम गूगल की लोकप्रिय ईमेल सर्विस जीमेल से लेकर गूगल कैलेंडर, गूगल ड्राइव, क्रोम, फिट जैसे कई ऐप्स का इस्तेमाल अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में करते हैं. इंटरनेट पर कुछ लोग इसे अपना दोस्त मानते हैं तो कुछ इसे अपना टीचर कहने से भी नहीं चूकते. 

Loading...
IGNITED MINDS