अयोध्या के संतों की अजहर मसूद को कड़ी चेतावनी

बोले, भव्य राम मंदिर निर्माण रोकने की किसी में ताकत नहीं

अयोध्या । पाकिस्तानी आतंकवादी अजहर मसूद ने वीडियो जारी करते हुए कहा कि अगर अयोध्या में राम मंदिर बना या उसके लिए कानून लाया गया तो वह देश में आतंक मचा देगा, अजहर मसूद की इस धमकी के बाद अयोध्या के साधु संतो व विहिप के साथ अयोध्या के मुश्लिम समुदाय मे भी एक आतंकवादी के बयान आक्रोश हैं लेकिन अयोध्या के संतों व विहिप ने देश के लोगो से अपील किया हैं कि इनसे डरने की जरूरत नहीं हैं तथा चेतावनी भी दिया कि जिस दिन हमारी सेना के सामने पड़ेंगे उसी दिन ढेर कर दिए जायँगे और राम मंदिर निर्माण को रोकने की छमता किसी में नहीं है,

राम जन्मभूमि के मुख्य पुजारी आचार्य सतेंद्र दास ने कहा कि अजहर मसूद जिस प्रकार से राम मंदिर बनने में धमकी दिया है तो उनको को बता देना चाहता हूं कि अपना जीवन करो कि और कितने दिन तुम रहोगे जैसे हमारी सेना के सामने आएंगे कभी मिल गए तो तुम्हारी दशा हुई होगी जो तुम्हारे अन्य आतंकवादी दोस्तों की हुई और रामजन्म भूमि के बनने में रोकने की क्षमता किसी में नहीं है जिस दिन ढांचा गिरने लगा किसी भी एक व्यक्ति की हिम्मत नहीं पड़ेगी वहां पर सामने आ जाए यह भारत है भारत की शक्ति कितनी है यह सारे विश्व के लोग जानते हैं पाकिस्तान में जो बोलना है बोलते रहो लेकिन यह कभी भी सपने में इस बात भी मत सोचना कि राम मंदिर निर्माण को तुम कहीं रोक पाओगे जिस दिन बनने लगेगा कोई भी विरोधी कहीं दिखाई भी नहीं पड़ेगा ऐसी स्थिति में जो अजहर मसूद बोल रहे हैं पाकिस्तान में ही बोले लेकिन और भारत के लिए इस प्रकार की बोलने की क्षमता मत रखो और कभी भी हमारे सेना की दृष्टि पड़ी तो जहां सभी आतंकी चले गए है अजहर मसूद को भी भेज दिए जाएगा।

विहिप के प्रांतीय मीडिया प्रभारी शरद शर्मा ने कहा कि 1528 से लगातार हिंदू समाज में जिस राम जन्म भूमि को प्राप्त करने के लिए संघर्ष करता रहा है उसके लिए लाखों लोगों ने अपना बलिदान दिया आज 2 लाख 75 हजार को जिस भूमि को प्राप्त करने के लिए कि हमारे रामलला वहां विराजमान हो उसकी प्राप्ति के लिए संघर्ष किया और अपने आप को बलिदानी किया आतंकवादियों से भयभीत होने वाला हिंदू समाज नहीं है वह लगातार संघर्ष करता रहा है और बाबर भी आक्रांता वह विदेशी था वह भारत में आया और राम मंदिर के साथ-साथ अनेक ऐसे धार्मिक स्थानों को तोड़ने की कोशिश किया वो तोड़ा लेकिन हिंदू समाज में भी नहीं हुआ और ना कभी होंगे सभी हिंदू भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए सभी संतो पिता संकल्पित है और उस स्थान पर भव्य राम मंदिर होकर ही रहेगा चाहे इसके लिए और भी जो भी बलिदान देना पड़े

 

Loading...
IGNITED MINDS