DAC ने दी तीन हजार करोड़ के रक्षा सौदों को मंजूरी

नई दिल्ली : रक्षा मंत्रालय की अधिग्रहण समिति ने सेना के लिए दो भारतीय नौसेना जहाजों के लिए ब्रह्मोस मिसाइलों और मुख्य युद्ध टैंक अर्जुन के लिए बख्तररबंद रिकवरी वाहनों सहित 3000 करोड़ रुपये के रक्षा खरीद सौदों को मंजूरी दे दी है। रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण की अध्यक्षता में रक्षा अधिग्रहण समिति (डीएसी) ने बुधवार को लगभग 3,000 करोड़ रुपये के रक्षा उपकरणों की खरीद को मंजूरी प्रदान की। रक्षा मंत्रालय ने एक वक्तव्य में कहा कि फोर पी 1135.6 फॉलो-ऑन जहाजों की खरीद को पिछले महीने कैबिनेट की सुरक्षा मामलों की समिति ने मंजूरी प्रदान की थी। इसी के अनुपालन के रूप में डीएसी ने रूस में दो भारतीय नौसेना के जहाजों के निर्माण के लिए स्वदेशी ब्रह्मोस मिसाइल की खरीद को मंजूरी दी है। देश में विकसित ब्रह्मोस एक सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल है और यह इन जहाजों पर तैनात प्राथमिक हथियार होगी।

डीएसी ने भारतीय सेना के मुख्य युद्ध टैंक अर्जुन के लिए बख्तरबंद रिकवरी वाहन (एआरवी) की खरीद को भी मंजूरी दी है। ये डीआरडीओ द्वारा डिजाइन और विकसित किए गए हैं और इन्हें बीईएमएल द्वारा तैयार किया जाएगा। एआरवी संघर्ष के दौरान कुशल और तेज मरम्मत और रिकवरी सुनिश्चित करते हैं।

Loading...
IGNITED MINDS