सेलिब्रेटी क्रिकेट कप नहीं तमाशा कहिए : नाम बड़े और दर्शन छोटे!

क्रिकेट के बुखार पर भारी पड़ी आयोजको की मनमानी

लखनऊ। भोली सूरत और मन के खोटे, नाम बड़े और दर्शन छोटे इस पुराने गाने की यह लाइन आज रविवार को लखनऊ में हुए सेलिब्रेटी क्रिकेट कप के मुकाबले पर खरी उतरी जब आयोजको के तमाम दावे धराशायी हो गए और शहीदों के परिवार की चैरिटी और हेमवती नंदन बहुगुणा के नाम पर आयोजित यह मैच सिर्फ एक तमाशा भर बनकर रह गया। हालांकि आयोजकों ने क्रिकेट के बुखार को भुनाने की पूरी कोशिश की लेकिन अब यह बात अलग है कि आयोजकों की मनमानी ही उन पर भारी पड़ी। यहां बात हो रही है रविवार को अटल बिहारी बाजपेयी इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में हुए सेलिब्रेटी क्रिकेट कप के मैच की जिसमें बॉलीवुड के कुछ स्टार भी अपना जलवा दिखाने को तैयार थे लेकिन बॉलीवुड एकादश बनाम यूपी की टीम के बीच इस मुकाबले की शुरूआत ही समय से नहीं हो सकी। यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री हेमवती नंदन बहुगुणा की भी याद में इस मैच में रविवार को बॉलीवुड एकादश बनाम यूपी की टीम के बीच मुकाबला होना था।

सेल्फी खिंचाने की होड़ पड़ी भारी, टाइम दिखाने वाली घड़ी भी खराब

हालांकि सितारों के क्रेज में बैठे दर्शक तब बोर होने लगे जब मैच निर्धारित समय से शुरू ही नहीं हो सका। आलम तो यह रहा कि बस थोड़ा समय और करते-करते आयोजकों ने पांच बजे के सात बजा दिए। एक तो आयोजकों की मर्जी और दूसरी स्टेडियम में समय बताने वाली घड़ी भी बंद पड़ी थी। ऐसे में अगर किसी को समय का पता करना हो तो या तो अपना मोबाइल देखो या घड़ी। वहीं मैच शुरू कराने के समय नामचीन लोग अभिनेताओ के साथ सेल्फी खिंचाने में ऐसे डूबे कि मैच समय से शुरू होना ही खटाई में पड़ गया था।

तो बालीवुड टीम की संख्या बल में कमी भी रही जिम्मेदार

जानकारी के मुताबिक बॉलीवुड टीम के दो खिलाड़ी मैच के लिए नही आ सके लेकिन टीम में 11 सदस्य पूरे करने के लिए मैच का समय बढ़ाया गया। ऐसे में उन दर्शकों का क्या जिन्होंने हजारों रूपये के टिकट खरीदे जो बेचारे ठगे रह गए। चारबाग के मनीष यादव के अनुसार बच्चों की जिद पर तीन-तीन हजार वाले पांच टिकट खरीदकर साढ़े तीन बजे ही स्टेडियम पहुंच गए थे लेकिन ऐसी बदहाली है तो अब दोबारा इस तरह के मैच देखने नहीं आएंगे। पता होता तो अपना पैसा ऐसे बर्बाद नहीं करता। इस संबंध में मैच के आयोजक उदराज से सम्पर्क करने का काफी प्रयास किया गया लेकिन जवाब नहीं मिल सका

जगमग स्टेडियम, लेकिन कमेंट्री नदारद, एंकर को भी नहीं था कुछ मालूम

हालांकि मैच के दौरान स्टेडियम तो जगमगा रहा था लेकिन दर्शक ठगे से महसूस कर रहे थे क्योंकि उन्हें कोई जानकारी नहीं मिल पा रही थी। कई खेल प्रेमियों की माने तो हमें मैच के नाम पर ठगा गया। बदइंतजामी तो इस कदर रही कि मैच की एंकर को भी नहीं पता कि कौन खिलाड़ी कहां यानि कौन बल्लेबाजी कर रहा है और कौन गेंदबाजी। वहीं बड़े-बड़े दावों के बीच कमेंट्री का दावा भी फुस्स हागया। आंखों देखा हाल भी सुनने को तैयार बैठे दर्शक सन्न नजर आए। लोगों ने कहा कि छुट्टी का दिन होने की वजह से बच्चों के साथ मैच देखने पहुंचे थे लेकिन आयोजकों ने मैच के नाम पर मजाक किरकिरा कर दिया। कुछ लोगों के अनुसार इस दौरान मैच में दर्शक भी काफी देर तक अंधेरे में बैठे रहे।

फिल्मी सितारों के क्रेज ने संडे किया बर्बाद

हालांकि दर्शक कमेंट्री न होने के कारण पूरे मैच भर यह नहीं जान सके कि कौन कब आउट हुआ और किसने कितने रन बनाए। ऐसे में लोग बोर होकर स्टेडियम से बाहर निकलने लगे। लोगों ने कहा कि ऐसे मैच का क्या फायदा जिसमें यह न पता चल रहा हो कि कौन क्याकर रहा है। वैसे भी इस मैच में खेल रहे फिल्म स्टार अब फिल्मों के उतने करीब नहीं है लेकिन फिर भी एक क्रेज था लेकिन अब अफसोस हो रहा है कि संडे बर्बाद हो गया।

मैच में नहीं मिलेगा रिटेक का मौकाः राज्यपाल

हालांकि इस मैच में बॉलीवुड सेलिब्रिटी इलेवन ने टॉस जीतकर यूपी सेलिब्रेटी इलेवन को बल्लेबाजी के लिए आमंत्रित किया। इस मैच का उद्घाटन करते हुए मुख्य अतिथि राज्यपाल राम नाइक ने कहा कि यह मैच हेमवती नंदन बहुगुणा की याद में खेला जा रहा है। उन्होंने कहा कि फिल्म में फिल्मी सितारों को रिटेक का मौका मिलता है, लेकिन मैच में ऐसा कोई मौका नही मिलेगा। कार्यक्रम में मंत्री स्वाति सिंह, चिकित्सा स्वाथ्य मंत्री आशुतोष टण्डन, पर्यटन मंत्री रीता बहुगुणा, कानून विधि मंत्री बृजेश पाठक व अल्पसंख्यक मंत्री मोहसिन रजा भी मौजूद रहे।

मनमाने दाम पर बिकी खाने-पीने की वस्तुएं

मैच शुरू होने से एक घंटे पहले स्टेडियम से गेंद ही गायब हो गई। इसके चलते कई लोग मैच में हुए दो घंटे विलम्ब के चलते स्टेडियम से बाहर निकल गए। वैसे स्टेडियम में कुछ भी ले जाना प्रतिबंधित था लेकिन कुछ लोग तथाकथित रूप से अंदर पहुंच गए और खाने-पीने की चीजे मनमानी दामें पर बेचने लगी।

Loading...
IGNITED MINDS