जब पलक झपकते ही ध्वस्त हो गया सैकड़ों साल पुराना पुल,

 मुंबई से सटे ठाणे के नजदीक कालू नदी पर बने सैकड़ों वर्ष पुराने पुल को चंद सेकंड्स में ध्वस्त कर दिया गया. पुल को ब्लास्ट के जरिए ध्वस्त करने की एक वीडियो कैमरे में कैद हो गई. इससे पहले एहतियातन तौर पर इलाके को खाली करा लिया गया था.  

दरअसल, यह पुल मुरबाड और शहापुर तालुका के बीच कालू नदी पर बना था. अंग्रेजों के जमाने का यह पुल धीरे-धीरे क्षतिग्रस्त होने लगा था. इसके चलते साल 2016 से ही पुल के ऊपर से यातायात रोक दिया गया था. यही नहीं, नदी पर नया पुल बन जाने के बाद लोगों ने भी इस पुराने पुल गुजरना बंद कर दिया था. किसी तरह की अनहोनी न हो, इसको देखते हुए महाराष्ट्र के लोक निर्माण विभाग ने भी आम आदमी के इस पुल पर से गुजरने पर प्रतिबंध लगा दिया गया था. 

बता दें कि साल 2016 में मुंबई-गोवा हाइवे पर सावित्री नदी पर बना ब्रिटिश कालीन पुल बारिश की वजह से बह गया था. इस हादसे में कई वाहन बह गए थे, जिनमें तकरीबन 20-22 लोग सवार थे. इसी हादसे के बाद से सरकार ने सुरक्षा के कद उठाने शुरू कर दिए हैं.

गोवा पुल हादसा
साल 2017 में दक्षिण गोवा जिले के संवोर्देम अैर कुचरेरेम गांव को जोड़ने वाला पुल उस समय ढह गया था जब आत्महत्या करने की कोशिश कर रहे एक व्यक्ति को देखने के लिए कई लोग वहां एकत्र हो गए थे. इस हादसे में दो लोगों की नदी में डूबने से मौत हो गई और करीब 20 लोग सुरक्षित बाहर आ गए थे.

Loading...
IGNITED MINDS