इविवि प्रयागराज के पुरातन छात्रों ने उठाया विवि व छात्रावासों की छवि सुधारने का बीड़ा

लखनऊ। साल दर साल बुद्धिजीवियों, विद्वानों तथा समाज के हर क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभाने वाले सुयोग्य नागरिकों की बड़ी फसल तैयार करने वाले इलाहाबाद विश्वद्यालय की वर्तमान में बिगड़ रही छवि और इसके हास्टलों के अपराधियों की शरणस्थली बन जाने से इसी विवि के पुरातन छात्र खासे आहत हैं। ऐसे में इन पूर्व छात्रों ने प्रण किया है कि अब वे इस विवि की छवि बदलने के लिए ही आगे नहीं आयेंगे बल्कि यहां के छात्रावासों का जीर्णोद्धार से लेकर इनके शुद्धिकरण’ का बीड़ा भी उठायेंगे तथा इसके लिए सभी तन, मन और धन से आगे आयेंगे।

इलाहाबाद विश्वविद्यालय प्रयागराज के हॉलेंड हॉल हॉस्टल के पुराने छात्र शनिवार को यहां राजधानी के एनई रेलवे ऑफिसर्स क्लब दिलकुशा में एकत्र हुए। इस सम्मिलन समारोह छात्रावास के पुराने छात्रों ने पुरानी यादों को ताजा किया। हालांकि इनमें से कई अब आईएएस, पीसीएस सहित न्यायिक सेवा के अलावा अन्य क्षेत्रों में अपनी सेवायें दे रहे हैं लेकिन पुराने ‘दौर’ में लौटते हुए सभी ने अपना ‘वर्तमान’ किनारे ही रखा। हॉलेंड हॉल हॉस्टल के कई पूर्व अंतःवासी छात्रों में मुख्य रूप से राकेश शुक्ला, राकेश कुमार त्रिपाठी, उमेश कुमार त्रिपाठी, संजय सिंह, राघवेंद्र चंदेल, संजीव शर्मा, बीके शाही, आरपी शाही, रंजीत सिंह, प्रसुन सिंह, अमित मिश्रा, विनम्र सेन सिंह, राघवेंद्र प्रताप सिंह (रघु), अरुण कुमार सिंह सहित सैकड़ों पूरा छात्र अपनी इस ‘ऐलुमिनी मीट’ में शामिल हुए। पुराने दिनों की यादों को ताजा करने के समारोह के आयोजक सुधीर सिंह व अभिनव सिंह रहे।

Loading...
IGNITED MINDS