सबसे कम उम्र की आतंकी है यह लड़की

एक सनसनीखेज केस पर फैसला सुनते हुए ब्रिटेन की एक अदालत ने 18 साल की एक लड़की को आतंकी हमले की योजना बनाने का दोषी करार दिया है. अदालत ने उसे  ब्रिटिश म्यूजियम पर हमले की योजना बनाने का जिम्मेदार बताते हुए उसे दोषी  करार दिया. इस फैसले के बाद लड़की को इस्लामिक स्टेट की सबसे कम उम्र की दोषी ब्रिटिश आतंकी होने का कथित तमगा भी मिल गया. खबर के मुताबिक, ओल्ड बैली स्थित एक ज्यूरी ने उसे आतंकवाद के 2 आरोपों में दोषी ठहराया. रिपोर्ट में कहा गया कि उसे 6 हफ्ते के अंदर सजा सुनाई जाएगी.एक सनसनीखेज केस पर फैसला सुनते हुए ब्रिटेन की एक अदालत ने 18 साल की एक लड़की को आतंकी हमले की योजना बनाने का दोषी करार दिया है. अदालत ने उसे  ब्रिटिश म्यूजियम पर हमले की योजना बनाने का जिम्मेदार बताते हुए उसे दोषी  करार दिया. इस फैसले के बाद लड़की को इस्लामिक स्टेट की सबसे कम उम्र की दोषी ब्रिटिश आतंकी होने का कथित तमगा भी मिल गया. खबर के मुताबिक, ओल्ड बैली स्थित एक ज्यूरी ने उसे आतंकवाद के 2 आरोपों में दोषी ठहराया. रिपोर्ट में कहा गया कि उसे 6 हफ्ते के अंदर सजा सुनाई जाएगी.  साल 2015 में बाउलार पेरिस में हुए आतंकी हमलों के बाद आतंकियों के ऑनलाइन संपर्क में आकर कट्टरपंथ की शिकार हो गई थी. उस समय वह 16 साल की थी. लड़की का नाम सफा बाउलार है और वह सीरिया जाकर आईएस के साथ जुड़ कर आतंकी गतिविधियों में शामिल होने की मंशा रखती थी. अदालत के अनुसार आईएस के आतंकी जो उसका प्रेमी भी था के मारे जाने के बाद वह लंदन पर आतंकी हमला करने की जुगत में थी और सक्रियता से अपने काम को अंजाम देने में लगी हुए थी.   गौरतलब है कि देश और दुनिया में फैले ज्यादातर आतंकी संगठन लगातार युवाओं को निशाना बना कर उन्हें अपने साथ शामिल करने कि मुहीम में जुटे है.

साल 2015 में बाउलार पेरिस में हुए आतंकी हमलों के बाद आतंकियों के ऑनलाइन संपर्क में आकर कट्टरपंथ की शिकार हो गई थी. उस समय वह 16 साल की थी. लड़की का नाम सफा बाउलार है और वह सीरिया जाकर आईएस के साथ जुड़ कर आतंकी गतिविधियों में शामिल होने की मंशा रखती थी. अदालत के अनुसार आईएस के आतंकी जो उसका प्रेमी भी था के मारे जाने के बाद वह लंदन पर आतंकी हमला करने की जुगत में थी और सक्रियता से अपने काम को अंजाम देने में लगी हुए थी. 

गौरतलब है कि देश और दुनिया में फैले ज्यादातर आतंकी संगठन लगातार युवाओं को निशाना बना कर उन्हें अपने साथ शामिल करने कि मुहीम में जुटे है.

Loading...