विश्व कप में अर्जेंटीना के प्रदर्शन पर मेरा अंतरराष्ट्रीय करियर निर्भर : मैसी

अर्जेंटीना के कप्तान लियोनेल मैसी ने कहा है कि आगामी विश्व कप में राष्ट्रीय टीम के प्रदर्शन पर उनका अंतरराष्ट्रीय करियर निर्भर करेगा।अर्जेंटीना के कप्तान लियोनेल मैसी ने कहा है कि आगामी विश्व कप में राष्ट्रीय टीम के प्रदर्शन पर उनका अंतरराष्ट्रीय करियर निर्भर करेगा।   मैसी वैसे तो 2016 में कोपा अमेरिका कप फाइनल में चिली के हाथों अर्जेंटीना को मिली हार के बाद संन्यास ले चुके थे। लेकिन सभी के दबाव में उन्होंने संन्यास से वापसी की और अब विश्व कप में भी टीम की कमान संभाल रहे हैं। 2014 विश्व कप फाइनल में भी अर्जेंटीना को जर्मनी के हाथों हार झेलनी पड़ी थी। मैसी अपनी टीम को कभी भी कोई अंतरराष्ट्रीय खिताब नहीं दिलवा पाए हैं।   मैसी ने कहा, मेरे संन्यास का मामला इस बात पर निर्भर करेगा कि हम कितना आगे जाते हैं, हम कैसे प्रदर्शन करते हैं। हम तीन फाइनल हार चुके हैं जिसने हमारे लिए थोड़ी मुश्किलें खड़ी की है। अर्जेंटीना के साथ कोई नहीं है क्योंकि हम इसे दूसरी तरह से देख रहे हैं क्योंकि हम तीन फाइनल में पहुंचे हैं।    मालूम हो कि 2014 विश्व कप के फाइनल में जर्मनी के खिलाफ 0-1 से हारने के बाद अर्जेंटीना को चिली के खिलाफ 2015 और 2016 के कोपा अमेरिका कप के लगातार दो फाइनल में पेनल्टी शूटआउट में हार का सामना करना पड़ा। विश्व कप के दौरान 31 साल के होने जा रहे मैसी मानते हैं कि स्पेन, ब्राजील, जर्मनी, फ्रांस और बेल्जियम फीफा विश्व कप खिताब की प्रबल दावेदार हैं। अर्जेंटीना अपने विश्व कप अभियान की शुरुआत आइसलैंड के खिलाफ आगामी शनिवार को मॉस्को में करेगा। वहीं ग्रुप डी में इसके बाद वह क्रोएशिया और नाइजीरिया के साथ भिड़ेगा। 

मैसी वैसे तो 2016 में कोपा अमेरिका कप फाइनल में चिली के हाथों अर्जेंटीना को मिली हार के बाद संन्यास ले चुके थे। लेकिन सभी के दबाव में उन्होंने संन्यास से वापसी की और अब विश्व कप में भी टीम की कमान संभाल रहे हैं। 2014 विश्व कप फाइनल में भी अर्जेंटीना को जर्मनी के हाथों हार झेलनी पड़ी थी। मैसी अपनी टीम को कभी भी कोई अंतरराष्ट्रीय खिताब नहीं दिलवा पाए हैं। 

मैसी ने कहा, मेरे संन्यास का मामला इस बात पर निर्भर करेगा कि हम कितना आगे जाते हैं, हम कैसे प्रदर्शन करते हैं। हम तीन फाइनल हार चुके हैं जिसने हमारे लिए थोड़ी मुश्किलें खड़ी की है। अर्जेंटीना के साथ कोई नहीं है क्योंकि हम इसे दूसरी तरह से देख रहे हैं क्योंकि हम तीन फाइनल में पहुंचे हैं।

मालूम हो कि 2014 विश्व कप के फाइनल में जर्मनी के खिलाफ 0-1 से हारने के बाद अर्जेंटीना को चिली के खिलाफ 2015 और 2016 के कोपा अमेरिका कप के लगातार दो फाइनल में पेनल्टी शूटआउट में हार का सामना करना पड़ा। विश्व कप के दौरान 31 साल के होने जा रहे मैसी मानते हैं कि स्पेन, ब्राजील, जर्मनी, फ्रांस और बेल्जियम फीफा विश्व कप खिताब की प्रबल दावेदार हैं। अर्जेंटीना अपने विश्व कप अभियान की शुरुआत आइसलैंड के खिलाफ आगामी शनिवार को मॉस्को में करेगा। वहीं ग्रुप डी में इसके बाद वह क्रोएशिया और नाइजीरिया के साथ भिड़ेगा।

Loading...
IGNITED MINDS