चुनाव लड़ने पर रोक के बाद मुशर्रफ ने एपीएमएल प्रमुख पद से दिया इस्तीफा

पाकिस्तान के पूर्व सैन्य शासक और तानाशाह परवेज मुशर्रफ ने ऑल पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एपीएमएल) के प्रमुख के पद से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने सुप्रीम कोर्ट ने उन पर 25 जुलाई को प्रस्तावित आम चुनाव लड़ने पर रोक लगाने के बाद इस्तीफा दिया. मुशर्रफ (74) ने पाकिस्तान के चुनाव आयोग को एपीएमएल के प्रमुख के रूप में इस्तीफा भेजा.पाकिस्तान के पूर्व सैन्य शासक और तानाशाह परवेज मुशर्रफ ने ऑल पाकिस्तान मुस्लिम लीग (एपीएमएल) के प्रमुख के पद से इस्तीफा दे दिया. उन्होंने सुप्रीम कोर्ट ने उन पर 25 जुलाई को प्रस्तावित आम चुनाव लड़ने पर रोक लगाने के बाद इस्तीफा दिया. मुशर्रफ (74) ने पाकिस्तान के चुनाव आयोग को एपीएमएल के प्रमुख के रूप में इस्तीफा भेजा.   मुशर्रफ ने यह कदम इसलिए उठाया है क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने दुबई में रहने के दौरान पूर्व पीएम कोर्ट के सामने पेश नहीं हो पाए थे. जिसके कारण मुशर्रफ को नामांकन पत्र सौंपने की अनुमति की अंतरिम राहत वापस ले ली.   चीफ जस्टिस से कई बार आश्वासन मिलने के बाद भी मुशर्रफ कोर्ट के सामने पेश नहीं हुए थे. जिसके कारण उनका नामांकन रद्द कर दिया गया था. पार्टी के महासचिव रहे मुहम्मद अमजद को पार्टी का अध्यक्ष बनाया गया है. अब वह पार्टी मामलों के प्रभारी होंगे और 25 जुलाई को प्रस्तावित आम चुनावों में एपीएमएल की भूमिका पर फैसला करेंगे.   अमजद ने कहा, "मुशर्रफ ने पेशावर हाई कोर्ट के साल 2013 में उस फैसले के कारण 18 जून को एपीएमएल के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया है जिसमें उन्हें आजीवन राजनीति से अयोग्य ठहराया गया था."

मुशर्रफ ने यह कदम इसलिए उठाया है क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ने दुबई में रहने के दौरान पूर्व पीएम कोर्ट के सामने पेश नहीं हो पाए थे. जिसके कारण मुशर्रफ को नामांकन पत्र सौंपने की अनुमति की अंतरिम राहत वापस ले ली.

चीफ जस्टिस से कई बार आश्वासन मिलने के बाद भी मुशर्रफ कोर्ट के सामने पेश नहीं हुए थे. जिसके कारण उनका नामांकन रद्द कर दिया गया था. पार्टी के महासचिव रहे मुहम्मद अमजद को पार्टी का अध्यक्ष बनाया गया है. अब वह पार्टी मामलों के प्रभारी होंगे और 25 जुलाई को प्रस्तावित आम चुनावों में एपीएमएल की भूमिका पर फैसला करेंगे.

अमजद ने कहा, “मुशर्रफ ने पेशावर हाई कोर्ट के साल 2013 में उस फैसले के कारण 18 जून को एपीएमएल के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिया है जिसमें उन्हें आजीवन राजनीति से अयोग्य ठहराया गया था.”

Loading...
IGNITED MINDS