दौलत पाने के लिए दी बेटे की बलि

राजस्थान से मर्डर का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. जहां पर एक बाप ने ही अपने बेटे का क़त्ल कर दिया. दरअसल इस बाप ने अपने बेटे की नरबलि दी. बताया जा रहा है कि तांत्रिक दादा और पिता ने जमीन में गड़ा खजाना हासिल करने के लिए अपने 16 वर्षीय बेटे की बलि दे दी.राजस्थान से मर्डर का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. जहां पर एक बाप ने ही अपने बेटे का क़त्ल कर दिया. दरअसल इस बाप ने अपने बेटे की नरबलि दी. बताया जा रहा है कि तांत्रिक दादा और पिता ने जमीन में गड़ा खजाना हासिल करने के लिए अपने 16 वर्षीय बेटे की बलि दे दी.  इन दोनों आरोपियों ने लड़के कि हत्या के बाद शव को गुपचुप तरीके से घर के पास ही जला दिया. बाद में जब ग्रामीणों ने किशोर का अधजला शव देखा तो पुलिस को इस घटना के बारे में सुचना दी. यह दिल दहला देने वाली घटना राजस्थान के भरतपुर के वैर थाना क्षेत्र की बताई जा रही है. यहाँ गांव में रहने वाले इंद्रजीत जाटव का पिता भूरी सिंह तंत्र मंत्र के चक्कर में डूबा रहता था. इसी दौरान जमीन में गड़ा खजाना पाने के लिए भूरी सिंह ने अपने पोते की बलि देने का निर्णय किया.  जिसके बाद खज़ाना पाने के लिए आरोपी दादा भूरी सिंह ने अपने बेटे इंद्रजीत जाटव के साथ मिलकर अपने 16 वर्षीय पोते राजवीर सिंह की बलि दे दी. बाद में अपना गुनाह छिपाने के लिए आरोपियों ने राजवीर का शव घर के ही पास रखे  टायर और गोबर के उपलों के साथ जला दिया.

इन दोनों आरोपियों ने लड़के कि हत्या के बाद शव को गुपचुप तरीके से घर के पास ही जला दिया. बाद में जब ग्रामीणों ने किशोर का अधजला शव देखा तो पुलिस को इस घटना के बारे में सुचना दी. यह दिल दहला देने वाली घटना राजस्थान के भरतपुर के वैर थाना क्षेत्र की बताई जा रही है. यहाँ गांव में रहने वाले इंद्रजीत जाटव का पिता भूरी सिंह तंत्र मंत्र के चक्कर में डूबा रहता था. इसी दौरान जमीन में गड़ा खजाना पाने के लिए भूरी सिंह ने अपने पोते की बलि देने का निर्णय किया.

जिसके बाद खज़ाना पाने के लिए आरोपी दादा भूरी सिंह ने अपने बेटे इंद्रजीत जाटव के साथ मिलकर अपने 16 वर्षीय पोते राजवीर सिंह की बलि दे दी. बाद में अपना गुनाह छिपाने के लिए आरोपियों ने राजवीर का शव घर के ही पास रखे  टायर और गोबर के उपलों के साथ जला दिया.

Loading...
IGNITED MINDS