एशियाई महिला चैंपियन्स ट्राफी में खुद को परखने का मौका मिलेगा: सुनीता लाकड़ा

नई दिल्ली : एशियाई महिला चैंपियन्स ट्राफी में भारतीय टीम का नेतृत्व कर रही सुनीता लाकड़ा का कहना है कि इस प्रतियोगिता  में एशियाई खेलों से पहले खुद को परखने का मौका मिलेगा. बता दें कि नियमित कप्तान रानी को विश्राम दिये जाने से टीम की कमान सुनीता को सौंपी गई है.

उल्लेखनीय है कि एशियाई महिला चैंपियन्स ट्राफी दक्षिण कोरिया के डोंगी शहर में 13 मई से आरम्भ होगी.इसमें भारत के अलावा मेजबान दक्षिण कोरिया, जापान, चीन और मलेशिया की टीमें भाग लेंगी. इस बारे में स्थानापन्न कप्तान रक्षापंक्ति की खिलाड़ी सुनीता लाकड़ा ने कल रात टीम के रवाना होने से पहले कहा कि हमें राष्ट्रमंडल खेलों में पदक की उम्मीद थी, लेकिन हमने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जैसी टीमों के खिलाफ अच्छा खेले . एशियाई चैंपियन्स ट्राॅफी में हमें जकार्ता में होने वाले एशियाई खेलों से पहले खुद को परखने का मौका मिलेगा.

बता दें कि भारत इस प्रतिस्पर्धा में अपने अभियान का आगाज जापान के खिलाफ करेगा.भारत ने 2016 में फाइनल में चीन को 2-1 से हराकर पहली बार एशियाई चैंपियन्स ट्राफी का खिताब जीता था. भारतीय टीम में अनुभवी कप्तान रानी, अग्रिम पंक्ति की खिलाड़ी पूनम रानी और रक्षक सुशीला चानू की गैर मौजूदगी पर सुनीता लाकड़ा ने कहा कि उनकी कमी खलेगी लेकिन इससे टीम का अपने खिताब का बचाव करने का लक्ष्य कमजोर नहीं पड़ा है. टीम ने पिछले तीन सप्ताह में साई बेंगलुरू में अच्छी तैयारी की है.

Loading...
IGNITED MINDS