चीन की विकास दर सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई: व्यापार युद्ध से

पड़ोसी देश चीन की विकास दर 1992 के बाद अपने सबसे निचले स्तर पर पहुंच गई है। तीसरी तिमाही में देश की जीडीपी छह फीसदी रही, जो कि दूसरी तिमाही में 6.2 फीसदी थी। अमेरिका के साथ व्यापार युद्ध चलने और सुस्ती के कारण यह कमी देखने को मिली है।
हालांकि चीन की विकास दर इस साल छह से 6.5 फीसदी रहने का अनुमान है। चीन के राष्ट्रीय सांख्यिकी ब्यूरो द्वारा जारी आंकड़ों के मुताबिक देश को आर्थिक मोर्चे पर देश के अंदर ही नहीं ब्लकि विदेश में भी बहुत सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। लेकिन इन सबके बावजूद लोगों की जीवन स्थिति में सुधार हुआ है।
ब्यूरो ने कहा है कि अमेरिका के साथ जारी व्यापार युद्ध के कारण विकास दर में गिरावट देखने को मिली है। 2018 में देश की जीडीपी 6.6 फीसदी थी। चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने अपने अमेरिकी समकक्ष को लिखे एक पत्र में आपसी सम्मान के आधार पर मतभेदों को निपटाने और पारस्परिक लाभ के लिए सहयोग बढ़ाने का अनुरोध किया है। ऐसा इसलिए ताकि चीन-अमेरिकी रिश्तों को सही रास्ते पर लाया जा सके।

शी ने ट्रंप को पत्र में लिखा, ‘एक स्वस्थ और स्थिर द्विपक्षीय रिश्ते चीन, अमेरिका और दुनिया के लिए काफी मायने रखते हैं। मुझे उम्मीद है कि दोनों पक्ष उस सिद्धांत और दिशा में कार्य करेंगे, जिस पर आप और मैं सहमत हुए हैं। हम समन्वय, सहयोग और स्थिरता के आधार पर द्विपक्षीय रिश्तों को आगे बढ़ाने पर काम कर रहे हैं।’

Loading...
IGNITED MINDS