जमुई डीएम पर पत्नी ने लगाया एेसा आरोप, महिला आयोग ने कहा-दिल्ली आइए

पत्नी को मानसिक प्रताडऩा देने के मामले में जमुई के डीएम (जिलाधिकारी) धर्मेंद्र कुमार को राष्ट्रीय महिला आयोग ने दिल्ली तलब किया है। उन्हें 20 जुलाई को दिल्ली बुलाया गया है। पत्नी को मानसिक प्रताडऩा देने के मामले में जमुई के डीएम (जिलाधिकारी) धर्मेंद्र कुमार को राष्ट्रीय महिला आयोग ने दिल्ली तलब किया है। उन्हें 20 जुलाई को दिल्ली बुलाया गया है।    आयोग की सदस्य सुषमा साहू ने बताया कि डीएम की पत्नी ने इस साल जून में राष्ट्रीय महिला आयोग में शिकायत दर्ज करवाई थी। अपने आवेदन में उन्होंने कहा था कि पति उनकी फोन कॉल को रिकॉर्ड करते थे।  पत्नी ने बताया कि पति उनसे शादी के बाद हनीमून पर चलने को कह रहे थे। इसे उन्होंने अपने फैशन डिजाइनिंग के कोर्स की परीक्षा के कारण आगे करने की बात कही। इस पर वे बिफर गए। पति से विवाद के बाद डीएम की पत्नी अभी अपने मायके पाटलिपुत्र कॉलोनी में रह रही हैं।   सुषमा साहू ने कहा कि वे एक कार्यक्रम में भाग लेने को सोमवार को पटना आईं। इसी दौरान उन्होंने दोनों पक्ष को एडीजी (सीआइडी) कार्यालय में बुलाया था, मगर डीएम नहीं आए। जबकि उनकी पत्नी पहुंची थी।   विदित हो कि सोमवार को इसी मामले को लेकर एडीजी (सीआइडी) कार्यालय में सिटी एसपी मध्य अमरकेश डी. और महिला आयोग की सदस्य सुषमा साहू के बीच तू-तू मैं-मैं हो गई थी।   पति ने लगाया अनोखा आरोप, कहा-पत्नी ये काम ठीक से नहीं करती, इसीलिए यह भी पढ़ें उधर पाटलिपुत्र थानेदार टीएन तिवारी ने बताया कि पीडि़ता ने 21 मार्च को थाने में पति के खिलाफ दहेज उत्पीडऩ का केस दर्ज कराया था। कांड संख्या 110/18 के तहत केस दर्ज किया गया है।

आयोग की सदस्य सुषमा साहू ने बताया कि डीएम की पत्नी ने इस साल जून में राष्ट्रीय महिला आयोग में शिकायत दर्ज करवाई थी। अपने आवेदन में उन्होंने कहा था कि पति उनकी फोन कॉल को रिकॉर्ड करते थे।

पत्नी ने बताया कि पति उनसे शादी के बाद हनीमून पर चलने को कह रहे थे। इसे उन्होंने अपने फैशन डिजाइनिंग के कोर्स की परीक्षा के कारण आगे करने की बात कही। इस पर वे बिफर गए। पति से विवाद के बाद डीएम की पत्नी अभी अपने मायके पाटलिपुत्र कॉलोनी में रह रही हैं। 

सुषमा साहू ने कहा कि वे एक कार्यक्रम में भाग लेने को सोमवार को पटना आईं। इसी दौरान उन्होंने दोनों पक्ष को एडीजी (सीआइडी) कार्यालय में बुलाया था, मगर डीएम नहीं आए। जबकि उनकी पत्नी पहुंची थी। 

विदित हो कि सोमवार को इसी मामले को लेकर एडीजी (सीआइडी) कार्यालय में सिटी एसपी मध्य अमरकेश डी. और महिला आयोग की सदस्य सुषमा साहू के बीच तू-तू मैं-मैं हो गई थी।

उधर पाटलिपुत्र थानेदार टीएन तिवारी ने बताया कि पीडि़ता ने 21 मार्च को थाने में पति के खिलाफ दहेज उत्पीडऩ का केस दर्ज कराया था। कांड संख्या 110/18 के तहत केस दर्ज किया गया है। 

Loading...
IGNITED MINDS