पूर्वोत्तर में रही शांति, बाजारों में दिखी चहल-पहल

इंटरनेट सेवा फिलहाल बंद, ट्रेनों का परिचालन भी प्रभावित

गुवाहाटी : नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ असम, मेघालय एवं त्रिपुरा समेत पूर्वोत्तर के अन्य राज्यों में पिछले तीन दिन की तरह सोमवार को भी विरोध-प्रदर्शन शांतिपूर्ण रहा। कहीं से भी किसी अप्रिय घटना की खबर नहीं है। कर्फ्यू में ढील मिलने से कई बाजारों में चहल-पहल देखी गयी। हालांकि रेल यातायात बाधित होने के कारण जरूरी खाद्य सामग्रियों की आपूर्ति नहीं होने से उनके दाम दोगुने तक बढ़ गये हैं। तेल रिफाइनरियों पर भी खतरे के बादल मंडराने लगे हैं। मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद होने से लोगों को परेशान होना पड़ा। सोमवार को शांतिपूर्ण आंदोलन के बावजूद एहतियातन सभी इलाकों में सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किये गए हैं।

कर्फ्यू वाले इलाकों में प्रशासन ने दिन के समय ढील दी है। सोमवार को गुवाहाटी में सुबह छह से रात नौ बजे तक और डिब्रूगढ़ में सुबह छह से शाम आठ बजे तक कर्फ्यू में ढील दी गई। इस दौरान कोई अप्रिय घटना नहीं हुई। प्रशासन ने शाम तीन बजे तक आंदोलन की अनुमति दी थी। हालांकि राज्य के अन्य इलाकों में स्थिति अभी भी तनावपूर्ण है। मोबाइल इंटरनेट सेवा को फिर से अगले 24 घंटे के लिए बंद कर दिया गया है। सरकारी कार्यालय, पेट्रोल पंप, रसोई गैस की एजेंसियां, डाकघर आदि खुल गए। बाजारों में भी रौनक रही। सब्जी और मछली बाजारों में खरीदारों की भारी भीड़ रही। हालांकि, सामानों के दाम दो गुना से अधिक बढ़ गए हैं। सड़कों पर निजी और सार्वजनिक वाहनों की आवाजाही भी सामान्य रही।

Loading...
IGNITED MINDS