मुंबई के पास हैं सबसे कम पैसे, जानिए किस टीम के पास हैं कितने करोड़

इंडियन प्रीमियर लीग यानी आइपीएल के अगले सीजन के लिए 19 दिसंबर को ऑक्शन होना है। कोलकाता में होने वाली खिलाड़ियों की नीलामी के लिए सबसे कम पैसा चार बार की आइपीएल विजेता टीम मुंबई इंडियंस के पास है। वहीं, पर्स में सबसे ज्यादा पैसे रखने के मामले में एक भी बार खिताब नहीं जीतने वाली टीम किंग्स इलेवन टीम के पास है।

किंग्स इलेवन पंजाब की टीम अपने साथ 9 खिलाड़ियों को अगले आइपीएल के लिए जोड़ सकती है, जिसमें 4 जगह विदेशी खिलाड़ियों के लिए भी है। बॉलीवुड एक्ट्रेस प्रीति जिंटा के सहमालिकाना हक वाली किंग्स इलेवन पंजाब की टीम के पास इस समय सबसे ज्यादा 42.70 करोड़ रुपये हैं। इस रकम से पंजाब की टीम 9 खिलाड़ियों पर 19 दिसंबर को IPL 2020 ऑक्शन में बोली लगाएगी।

मुंबई के पास है इतनी राशि

दरअसल, खिलाड़ियों को रिटेन और रिलीज करने के बाद सबसे ज्यादा राशि किंग्स इलेवन पंजाब को बची है। वहीं, मुंबई इंडियंस को 7 खिलाड़ियों की जरूरत है, जिसमें दो विदेशी खिलाड़ियों के लिए भी जगह है, लेकिन रोहित शर्मा की कप्तानी वाली मुंबई इंडियंस के पास सिर्फ 13.05 करोड़ रुपये हैं। इतनी रकम से मुंबई की टीम ज्यादा से ज्यादा खिलाड़ी खरीदने की कोशिश करेगी। वैसे भी मुंबई के पास हर एक धारदार खिलाड़ी है जो विपक्षी टीम को रौंद सकता है।

उधर, बॉलीवुड सुपरस्टार शाहरुख खान के सहमालिकाना हक वाली कोलकाता नाइट राइडर्स के पर्स में भी काफी ज्यादा रकम बची है। क्रिस लिन और रोबिन उथप्पा जैसे बड़े खिलाड़ियों को रिलीज करने के बाद केकेआर के पास 35.65 करोड़ रुपये की रकम बची है, जिससे टीम को कुल 11 खिलाड़ी खरीदने हैं। इसमें 4 विदेशी खिलाड़ी भी शामिल हैं। हालांकि, ये जरूरी नहीं है कि इतने ही खिलाड़ी टीमों को खरीदने हैं।

आरसीबी को खरीदने हैं 12 खिलाड़ी

आपको बता दें, राजस्थान रॉयल्स को 4 विदेशी खिलाड़ियों समेत कुल 11 खिलाड़ी खरीदने हैं और उसके पास 28.90 करोड़ रुपये पर्स में बचे हैं। वहीं, विराट कोहली की कप्तानी वाली फ्रेंचाइजी रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर (RCB) के पास भी अच्छी खासी रकम बची है, क्योंकि टीम मैनेजमेंट ने कई खिलाड़ियों को रिलीज किया है। आरसीबी के पास फिलहाल 27.90 करोड़ रुपये की रकम बाकी है, जिससे उसको 6 भारतीय और 6 विदेशी खिलाड़ी अपनी टीम में शामिल करने हैं।

IPL टीम और उनके पास बची हुई राशि

1. किंग्स इलेवन पंजाब, 42.70 करोड़

2. कोलकाता नाइटराइडर्स, 35.65 करोड़

3. राजस्थान रॉयल्स, 28.90 करोड़

4. रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर, 27.90 करोड़

5. दिल्ली कैपिटल्स, 27.85 करोड़

6. सनराजइर्स हैदराबाद, 17.00 करोड़

7. चेन्नई सुपरकिंग्स, 14.60 करोड़

8. मुंबई इंडियंस, 13.05 करोड़

Loading...
IGNITED MINDS