क्या ट्रंप के हाथों में नहीं रहेगी अमेरिका की सत्ता? व्हाइट हाउस ने दिया बयान

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग प्रस्ताव हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव द्वारा पास कर दिया गया है। दरअसल, गुरुवार को 6 घंटे की चर्चा के बाद हुई वोटिंग हुई तो दो आर्टिकल के तहत महाभियोग प्रस्ताव को पास कर मंजूरी दे दी गई। अब इस पर व्हाइट हाउस द्वारा बयान जारी किया गया है।  व्हाइट हाउस द्वारा जारी किए गए बयान में कहा गया है कि डोनाल्ड ट्रंप को उम्मीद करते है कि सीनेट सही ढंग से इस प्रक्रिया को पूरा करेगी।  निष्पक्ष प्रक्रिया हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव में पूरी नहीं की गई। अब आगे की जो भी प्रक्रिया होगी ट्रंप उसके लिए तैयार हैं। 

आखिरी दिन तक करेंगे काम

व्हाइट हाउस जारी किए गए बयान में आगे कहा गया कि जब से ट्रंप ने कार्यभार संभाला है तभी से वह बिना थके अमेरिका के लोगों के लिए काम कर रहे हैं। और वह ऐसे ऑफिस में रहने के आखिरी दिन तक करते रहेंगे।

सीनेट में नहीं विपक्षी पार्टी के पास बहुमत

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव में विपक्षी पार्टी डेमोक्रेट्स के पास बहुमत थी। लेकिन, सीनेट में उनके पास बहुमत नहीं है। हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव में ट्रंप के खिलाफ जो दो प्रस्ताव लाए गए हैं, उसमें  230-197, 223-198 वोट मिले थे। जारी किए गए ये प्रस्ताव ऑफिस का गलत इस्तेमाल और कामकाज में कांग्रेस को नजरअंदाज करने का था।

आगे क्या होगा

हाउस ऑफ रिप्रेजेंटेटिव में प्रस्ताव पास होने के बाद अब इसे सीनेट में पेश किया जाएगा। यहां ट्रंप पर लगाए गए आरोपों का एक ट्रायल किया जाएगा। ट्रायल होने के बाद सीनेट में ही इन प्रस्तावों पर वोटिंग की जाएगी। अब यदि वोटिंग के दौरान प्रस्ताव गिर जाते है तो ट्रंप अपने राष्ट्रपति पद पर बरकरार रहेंगे। यदि ये प्रस्ताव को पास कर दिया जाता है तो ट्रंप को अपने पद से इस्तीफा देना पड़ सकता है।

Loading...
IGNITED MINDS