अमेरिकी राजदूत ने केरल बाढ़ पीड़ितों के प्रति जताई संवेदना, कहा- दुख के इस घड़ी में हम साथ हैं

संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत निक्की हेली ने केरल में आई विनाशकारी बाढ़ से प्रभावित लोगों के प्रति एकजुटता व्यक्त की. केरल में करीब 100 साल की सबसे भयंकर बाढ़ में 231 से अधिक लोग मारे गए हैं. संयुक्त राष्ट्र में अमेरिकी मिशन द्वारा टि्वटर पर दिए एक संदेश में हेली ने कहा, ‘‘हमारी संवेदनाएं केरल में हमारे भारतीय भाइयों और बहनों के प्रति हैं जो करीब 100 वर्षों में सबसे खराब मानसून और बाढ़ के दौर से प्रभावित हुए हैं. हम क्षेत्र के उन लोगों और सभी परिवारों के लिए विशेष प्रार्थना करते हैं जिन्होंने अपने प्रियजनों को गंवाया.’’अमेरिकी राजदूत ने केरल बाढ़ पीड़ितों के प्रति जताई संवेदना, कहा- दुख के इस घड़ी में हम साथ हैं

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंतोनियो गुतारेस के प्रवक्ता ने गत सप्ताह कहा था कि संयुक्त राष्ट्र केरल में आई भयानक बाढ़ में मारे गए लोगों और उससे हुए नुकसान तथा विस्थापन से ‘‘दुखी’’ है. संयुक्त राष्ट्र स्थिति पर करीबी नजर रख रहा. 

केरल बाढ़ : राहत कार्य तेज, उद्योग जगत ने झोंकी ताकत
अडानी समूह की निगमित सामाजिक दायित्व (सीएसआर) प्रकोष्ठ, अडानी फाउंडेशन ने केरल बाढ़ पीड़ितों के राहत और पुनर्वास के लिए 50 करोड़ रुपये देने की बात कही है. कंपनी केरल के मुख्यमंत्री के आपदा राहत कोष में तत्काल 25 करोड़ रुपये की राहत उपलब्ध करायेगी और उसके बाद पुनर्वास और पुनर्निर्माण के लिए भी इतनी ही राशि देगी. उधर, होंडा समूह की कंपनियों ने अपने कर्मचारियों के साथ मिलकर केरल बाढ़ राहत कार्यों के लिए 3 करोड़ रुपये का अनुदान किया है. होंडा की कंपनियों ने संयुक्त वक्तव्य में कहा कि 3 करोड़ रुपये के इस चेक को प्रधानमंत्री के राष्ट्रीय राहत निधि में सौंपा गया. 

कर्मचारियों ने एक दिन का वेतन दिया
एक बयान में कहा गया कि समूह के कर्मचारियों ने इस प्रयास के तहत एक दिन का अपना वेतन भी दिया है. बयान में कहा गया है, “पुनर्निर्माण और पुनर्वास के अथक प्रयास में राज्य की सहायता के लिए वित्तीय सहायता चरणों में जारी की जाएगी.” फाउंडेशन, जिसका मूल आदर्श राष्ट्र निर्माण और नागरिकों का सशक्तिकरण है, ने अदानी विझिंजम पोर्ट प्राइवेट लिमिटेड के सहयोग से बड़े पैमाने पर पुनर्वास कार्य शुरू कर दिया है. कंपनी की सहायता टीम बाढ़ पीड़ितों को राशन, कपड़े और दूसरी जरूरी चीजों के साथ राहत किट का वितरण कर रही है.

होंडा फर्मों ने 3 करोड़ रुपए दान किए
भारत में होंडा समूह कंपनियों – होंडा मोटरसाइकिल और स्कूटर इंडिया, होंडा कार्स इंडिया लिमिटेड, होंडा सिएल पावर प्रोडक्ट्स लिमिटेड, होंडा आर एंड डी (इंडिया) और होंडा मोटर इंडिया ने इस क्षेत्र के पुनर्निर्माण और पुनर्बहाली के काम के लिए योगदान दिया है. इससे पहले मारुति सुजुकी इंडिया ने अपने कर्मचारियों के साथ केरल में राहत प्रयास के लिए 3.5 करोड़ रुपये देने की घोषणा की थी.

ऑटो उद्योग ने भी बढ़ाया मदद का हाथ
बजाज ऑटो, हुंडई मोटर इंडिया लिमिटेड (एचएमआईएल) और टीवीएस मोटर ने राहत निधि के लिए पहले ही योगदान की घोषणा की है. टाटा मोटर्स, निसान इंडिया और बीडब्लूएम जैसी अन्य कंपनियों ने राज्य के ग्राहकों को सेवा समर्थन देने की घोषणा की है

Loading...
IGNITED MINDS