SBI खाताधारक ध्यान दें : ये 5 गलतियां की तो अकाउंट से गायब हो सकता है बैलेंस

अगर आपका भी एसबीआई में अकाउंट है तो यह खबर आपके काम की है. एसबीआई ने एक बार फिर से अपने ग्राहकों को चेताया है और कहा कि अगर आपने ये गलतियां की तो आपके अकाउंट से पैसे गायब हो सकते हैं. आपको बता दें कि पिछले दिनों ऑनलाइन बैंक फ्रॉड की बढ़ती वारदातों के बाद एसबीआई की तरफ से अपने ग्राहकों को जागरूक किया गया है.अगर आपका भी एसबीआई में अकाउंट है तो यह खबर आपके काम की है. एसबीआई ने एक बार फिर से अपने ग्राहकों को चेताया है और कहा कि अगर आपने ये गलतियां की तो आपके अकाउंट से पैसे गायब हो सकते हैं. आपको बता दें कि पिछले दिनों ऑनलाइन बैंक फ्रॉड की बढ़ती वारदातों के बाद एसबीआई की तरफ से अपने ग्राहकों को जागरूक किया गया है.  हाल ही में हैकर्स ने डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड का डाटा हैक कर कॉसमॉस बैंक से 90 करोड़ रुपये गायब कर दिए. ऐसे में आपको और भी ज्यादा सचेत रहने की जरूरत है. इस सभी को ध्यान में रखते हुए एसबीआई ने अपने ग्राहकों के लिए एडवाइजरी जारी की है. देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक ने अपने ट्विटर हैंडल के माध्यम से अपने ग्राहकों को जानकारी दी है. ग्राहकों को यह जानकारी देने के पीछे बैंक का मकसद ग्राहकों को किसी भी प्रकार के ऑनलाइन फ्रॉड से बचाना है.  View image on Twitter View image on Twitter  State Bank of India ✔ @TheOfficialSBI  Dear Customers, kindly make note that  #SBI would never seek sensitive #information like USER ID, PIN, PASSWORD, CVV, OTP, VPA (UPI) etc from you. For genuine information, follow our official SBI #social media handles.#SBI #Banking #Customers #SocialMedia #FollowUs  7:07 PM - Aug 27, 2018 311 81 people are talking about this Twitter Ads info and privacy इन 5 बातों का रखें ध्यान 1. एसबीआई की तरफ से कहा गया है कि बैंक आपकी गोपनीय जानकारी जैसे यूजर आई डी, पिन, पासवर्ड, सीवीवी, ओटीपी, वीपीए आदि कभी नहीं पूछता. यदि आपसे कोई इस बारे में जानकारी मांगता है तो उसे कभी नहीं बताएं.   2. आप कभी भी ऑनलाइन ट्रांजेक्शन पब्लिक प्लेस जैसे रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड या भीड़भाड़ वाली जगह पर नहीं करें. साथ ही यह भी ध्यान रखें कि कभी भी ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने के लिए फ्री वाई-फाई का प्रयोग न करें. ऐसा करने से आपकी गोपनीय जानकारी लीक हो सकती है.  3. एसबीआई खाताधारकों को कभी भी अपने बैंक अकाउंट की डिटेल अपने मोबाइल में सेव करके नहीं रखनी चाहिए. न ही ऐसी डिटेल को किसी पेपर आदि पर लिखकर फोटो के माध्यम से फोन में रखना चाहिए. बैंक के खो जाने की स्थिति में कोई भी इसका दुरुपयोग कर सकता है.  4. एसबीआई ग्राहकों को कभी भी अपना एटीएम या क्रेडिट कार्ड दूसरे व्यक्ति को नहीं देना चाहिए. यदि आपने किसी दुकान पर शॉपिंग की है तो अपनी आंखों के सामने ही भुगतान करने के लिए कार्ड को स्वैप कराए. अगर आप इसे अपने सामने स्वैप नहीं कराते हैं तो इसे हैक किया जा सकता है या इसका क्लोन तैयार किया जा सकता है.  5. एसबीआई खाताधारकों को अपने बैंकिंग ट्रांजेक्शन से जुड़ी जानकारी सोशल मीडिया पर शेयर नहीं करनी चाहिए. कभी भी ऐसा करने पर आप आसानी से हैकर्स के निशाने पर आ सकते हैं

हाल ही में हैकर्स ने डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड का डाटा हैक कर कॉसमॉस बैंक से 90 करोड़ रुपये गायब कर दिए. ऐसे में आपको और भी ज्यादा सचेत रहने की जरूरत है. इस सभी को ध्यान में रखते हुए एसबीआई ने अपने ग्राहकों के लिए एडवाइजरी जारी की है. देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक ने अपने ट्विटर हैंडल के माध्यम से अपने ग्राहकों को जानकारी दी है. ग्राहकों को यह जानकारी देने के पीछे बैंक का मकसद ग्राहकों को किसी भी प्रकार के ऑनलाइन फ्रॉड से बचाना है.

इन 5 बातों का रखें ध्यान
1. एसबीआई की तरफ से कहा गया है कि बैंक आपकी गोपनीय जानकारी जैसे यूजर आई डी, पिन, पासवर्ड, सीवीवी, ओटीपी, वीपीए आदि कभी नहीं पूछता. यदि आपसे कोई इस बारे में जानकारी मांगता है तो उसे कभी नहीं बताएं.

2. आप कभी भी ऑनलाइन ट्रांजेक्शन पब्लिक प्लेस जैसे रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड या भीड़भाड़ वाली जगह पर नहीं करें. साथ ही यह भी ध्यान रखें कि कभी भी ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने के लिए फ्री वाई-फाई का प्रयोग न करें. ऐसा करने से आपकी गोपनीय जानकारी लीक हो सकती है.

3. एसबीआई खाताधारकों को कभी भी अपने बैंक अकाउंट की डिटेल अपने मोबाइल में सेव करके नहीं रखनी चाहिए. न ही ऐसी डिटेल को किसी पेपर आदि पर लिखकर फोटो के माध्यम से फोन में रखना चाहिए. बैंक के खो जाने की स्थिति में कोई भी इसका दुरुपयोग कर सकता है.

4. एसबीआई ग्राहकों को कभी भी अपना एटीएम या क्रेडिट कार्ड दूसरे व्यक्ति को नहीं देना चाहिए. यदि आपने किसी दुकान पर शॉपिंग की है तो अपनी आंखों के सामने ही भुगतान करने के लिए कार्ड को स्वैप कराए. अगर आप इसे अपने सामने स्वैप नहीं कराते हैं तो इसे हैक किया जा सकता है या इसका क्लोन तैयार किया जा सकता है.

5. एसबीआई खाताधारकों को अपने बैंकिंग ट्रांजेक्शन से जुड़ी जानकारी सोशल मीडिया पर शेयर नहीं करनी चाहिए. कभी भी ऐसा करने पर आप आसानी से हैकर्स के निशाने पर आ सकते हैं

Loading...
IGNITED MINDS