अब पंचायत चुनाव के लिए भी पन्ना प्रमुख बनाएगी बीजेपी, गांव-गांव होंगी बैठकें

पंचायत चुनाव के लिए आरक्षण सूची जारी होने के बाद भाजपा ने इसे लेकर अपनी तैयारी तेज कर दी है। पार्टी से समर्पित प्रत्याशी को मजबूत करने और गांव, ब्लाक व जिला पंचायत चुनाव में अपना परचम लहराने के लिए पार्टी ने बूथ स्तर पर पन्ना प्रमुख बनाने की फैसला किया है। पार्टी नेतृत्व की मंशा के अनुसार इस बार के पंचायत चुनाव में पन्ना प्रमुख की पद्धति अपनाई जाएगी। अब तक इसका प्रयोग लोकसभा और विधानसभा चुनाव में ही पार्टी करती रही है।
दस मार्च तक होंगी ग्राम पंचात स्‍तर पर बैठकें पार्टी के क्षेत्रीय अध्यक्ष डा. धर्मेंद्र सिंह ने बताया कि इस चुनाव को लेकर जिला, मंडल और जिला पंचायत वार्ड इकाई की बैठक संपन्न हो चुकी है। अब अगले चरण में 5 से 10 मार्च तक ग्राम पंचायत स्तर की बैठकें होंगी। इस बैठक में बूथ समितियों के पदाधिकारी, बूथ में निवास करने वाले भाजपा के मंडल से लेकर प्रदेश स्तर के पदाधिकारी शामिल होगें। सभी पंचायत चुनाव जीतने की रणनीति बनाएंगे। बैठक में गांव के सामाजिक समीकरण को समझते हुए सामाजिक टोली और संपर्क टोली बनाई जाएगी। मतदाता सूची के मुताबिक पन्ना प्रमुख के नाम तय किया जाएगा। क्षेत्रीय अध्यक्ष के अनुसार पंचायत चुनाव को लेकर दूसरे चरण में 11 से 18 मार्च तक गांवों चौपाल लगाई जाएगी, जिसमें मतदाताओं को केंद्र और राज्य सरकार की जनकल्याणकारी योनजाओं की जानकारी दी जाएगी। चौपाल के समापन के बाद गांवों में भ्रमण कर भाजपा कार्यकर्ता प्रधानमंत्री आवास, शौचालय, उज्जवला योजना, प्राथमिक विद्यालयों का सुंदरीकरण, किसान सम्मान निधि तथा आयुष्मान भारत योजना की चर्चा करेंगे। गांवों का भ्रमण करेंगे पदाधिकारी क्षेत्रीय मीडिया प्रभारी डा. बच्‍चा पांडेय नवीन के बताया कि प्रदेश की भाजपा का 19 मार्च को चार साल पूरा होने जा रहा है। चार साल के कार्यकाल में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में सरकार ने ऐतिहासिक कार्य किए है। इस उपलब्धि को जनता तक ले जाने की तैयारी है। इस योजना के तहत भाजपा कार्यकर्ता, पदाधिकारी और जनप्रतिनिधि 19 से 25 मार्च तक गांवों में भ्रमण कर सरकार की जन कल्याणकारी योजनाओं से जनता को अवगत कराएंगे।
Loading...
IGNITED MINDS