पहले की सरकार में केवल एक परिवार के लिए सोचा जाता था: योगी

इटावा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को इटावा में करीब 475 करोड़ की परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि विकास की योजनाएं केवल भारतीय जनता पार्टी के समय ही क्रियान्वित होती हैं क्योंकि हम शिलान्यास भी करते हैं और लोकार्पण भी करते हैं। धोखे से सत्ता मिल जाए तो वह भले ही शिलान्यास कर दें लेकिन जनता उन्हें लोकार्पण करने लायक नहीं छोड़ती। तीन साल पहले जिन परियोजनाओं का शिलान्यास किया था, उसका आज लोकार्पण कर रहे हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि पहले लोग अयोध्या जाने से डरते थे। आज अयोध्या में दीपावली के अवसर पर भव्य दीपोत्सव का कार्यक्रम मनाया गया है। जब लोककल्याण से जुड़ी परियोजनाएं आगे बढ़ती हैं तो सबके जीवन में बदलाव देखने को मिलता है। जब शुभ मुहूर्त में शिलान्यास होता है तो वह पूरी भी होती हैं। आज भैया दूज के अवसर पर जिन परियोजनाओं का शिलान्यास हो रहा है, वे जल्द ही पूरी होंगी।

कोरोना काल में भाजपा के सांसद स्थानीय स्तर पर प्रशासन के साथ मिलकर जनता की सेवा कर रहे थे। भाजपा कार्यकर्ता जुटे थे। लेकिन वह लोग (विपक्ष के खासकर अखिलेश) घर में दुबक गये थे। केवल ट्वीटर पर दिख रहे थे। प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश ने सबसे बेहतर प्रबंधन कर दिखाया। सबसे कम मौत उत्तर प्रदेश में, सबसे अधिक जांच यहां, सबसे अधिक लोगों को राशन बांटने का काम भी उत्तर प्रदेश ने किया। सबसे अधिक टीका भी इसी प्रदेश ने लगाया है। जनसमूह से पूछते हुए उन्होंने कहा कि इटावा की जनता ने उन लोगों को जवाब दे दिया है, जिन्होंने कोविड वैक्सीन पर सवाल खड़ा किए थे।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने सबको खाद्यान्न उपलब्ध करवाए हैं। अब एक बार फिर अगले चार माह तक नि:शुल्क खाद्यान्न दिया जाएगा। खाद्यान्न के साथ नमक एवं तेल भी दिया जाएगा। पहले यह खाद्यान्न गरीब को नहीं मिलता था। नेताओं का घर भर जाता था। आज गरीबों को इस योजना का पूरा लाभ मिल रहा है। इटावा ने विधायक दिए, सांसद दिए और मुख्यमंत्री भी दिए लेकिन उन्होंने आपके विकास के लिए क्या किया? मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश भर में धार्मिक स्थलों का विकास किया जा रहा है। पहले धार्मिक स्थलों के विकास का पैसा कब्रिस्तान की चहारदीवार बनाने में खर्च होते थे।

योगी ने कहा कि प्रदेश के कुछ नेता अपराधियों को गले लगाने में जुटे थे । आज भाजपा सरकार में अपराधियों को कोई गले नहीं लगा रहा है। उनकी जगह जेल है। भ्रष्टाचार कर कमाई गयी सम्पत्ति की वसूली भी इसी सरकार में की गई है। उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों के दौरान हर योजना में भ्रष्टाचार होता था। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने इटावा जिले की जनता को केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं के तहत मिले लाभ के बारे में विस्तार से बताया। पहले केवल एक परिवार की सोच थी। हमारी सरकार में 24 करोड़ की जनता को एक परिवार मानकर काम किया जा रहा है। उनके लिए अपना परिवार छोड़कर बाकी सब लोग पराए थे। इस मौके पर स्थानीय सांसद राम शंकर कठेरिया के अलावा स्थानीय विधायक व मंत्री मौजूद रहे।

Loading...