प्रदूषण पर नियंत्रण के लिए यूपीसीडा हुआ सख्त,114 औद्योगिक इकाइयों को थमाए नोटिस

गाजियाबाद। जिले में लगातार बढ़ रहे प्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों के बाद अब उत्तर प्रदेश राज्य औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीसडा) ने भी सख्ती बरतनी शुरू कर दी है। साथ औद्योगिक क्षेत्रों में पानी का छिड़काव शुरू करा दिया है।

प्राधिकरण ने जिले के 11औद्योगिक क्षेत्रों की 114 औद्योगिक इकाइयों को नोटिस जारी किए हैं और हिदायत दी है कि वह किसी भी कीमत पर प्रदूषण ना फैलाएं । नोटिस में कहा गया है कि यह कंपनियां मानकों के अनुरूप ही चलें। साथ ही चेतावनी दी गई है यदि कोई कंपनी प्रदूषण फैलाती पाई गई तो उसके खिलाफ दंडात्मक कार्रवाई के साथ-साथ इकाई को सील कर दिया जाएगा।

इस संबंध में यूपीसीडा के क्षेत्रीय प्रबंधक राकेश झा ने गुरुवार को बताया कि प्रदूषण को लेकर विभाग ने एक तीन सदस्यीय कमेटी गठित की और ऐसी औद्योगिक इकाइयों को चयनित किया जो वायु प्रदूषण फैला सकती हैं । इसी को लेकर जिले के बुलंदशहर रोड औद्योगिक क्षेत्र, साहिबाबाद साइट 4 औद्योगिक क्षेत्र, मेरठ रोड औद्योगिक क्षेत्र ,साउथ साइड ऑफ जीटी रोड औद्योगिक क्षेत्र, कवि नगर औद्योगिक क्षेत्र, आनंद इंडस्ट्रियल एरिया, मसूरी गुलावठी रोड औद्योगिक क्षेत्र समेत सभी 11 औद्योगिक क्षेत्रों में चल रही इन 114 इकाइयों को नोटिस जारी कर दिया गया है। उन्हें साफ हिदायत दे दी गई है कि संचालक अपनी इकाई को मानकों के अनुरूप ही संचालित करें। किसी भी तरह की लापरवाही ना करें यदि किसी कंपनी द्वारा प्रदूषण फैलाता पाया गया तो कंपनी कसीज किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि इसके अलावा 30 ऐसी औद्योगिक इकाइयों को भी नोटिस जारी किया गया है जिनके हाल ही में नक्शे पास किए गए थे और उन पर निर्माण कार्य चल रहा है। उन्हें हिदायत दी गई है कि वे निर्माण स्थल पर मानकों का पूरी तरह से अनुपालन करें ताकि प्रदूषण ना फैले। उन्होंने बताया कि मसूरी गुलावठी औद्योगिक क्षेत्र समेत लगभग सभी क्षेत्रों में पानी का छिड़काव भी शुरू कर दिया गया है।

Loading...