नेपाल के प्रधानमंत्री के भव्य स्वागत की करें तैयारी: योगी आदित्यनाथ

वाराणसी। नेपाल के प्रधानमंत्री की अगवानी के लिए शनिवार की शाम शहर में आये प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सर्किट हाउस में विकास कार्यो और कानून व्यवस्था की समीक्षा की। इसके बाद देर शाम काशी के कोतवाल बाबा कालभैरव और बाबा विश्वनाथ के दरबार में हाजिरी लगाई। कालभैरव के दरबार में विधिवत दर्शन पूजन के मुख्यमंत्री काशीपुराधिपति के दरबार में पहुंचे। काशी विश्वनाथ के स्वर्णिम दरबार में नेपाल के प्रधानमंत्री के आगमन की तैयारियों का मुख्यमंत्री ने जायजा लिया और अधिकारियों से कहा कि मेहमान प्रधानमंत्री के आगमन पर उनका भव्य स्वागत होना चाहिए। इसकी तैयारी रात में ही कर ले। प्रदेश में दोबारा मुख्यमंत्री बनने के बाद पहली बार पहुंचे योगी आदित्यनाथ का काशी विश्वनाथ धाम में स्वागत पुष्प वर्षा, स्वस्तिवाचन और डमरू दल ने की।

मुख्यमंत्री ने दरबार में उपस्थित श्रद्धालुओं का हर-हर महादेव के उद्घोष के बीच उनका अभिवादन स्वीकार किया। मुख्यमंत्री ने बाबा विश्वनाथ की षोडशोपचार पूजन कर प्रदेश वासियों के लिए मंगल कामना की। इसके बाद मुख्यमंत्री नेपाली मंदिर गए जहां उन्होंने पशुपतिनाथ मंदिर में भी पूजन अर्चन किया। उन्होंने नेपाल के प्रधानमंत्री के आगमन के दौरान होने वाले भूमि पूजन और अन्य कार्यक्रमों की तैयारियों का जायजा लिया। मुख्यमंत्री ने पशुपतिनाथ मंदिर में निवास करने वाले वृद्धजनों, माताओं व विद्यार्थियों से बातचीत की, उनका कुशलक्षेम पूछा। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों ने कहा कि इस मंदिर में होने वाले आयोजन की भी व्यवस्था भव्य रूप से कराई जाए।

मंडलायुक्त दीपक अग्रवाल ने बताया कि नेपाल के प्रधानमंत्री के आगमन की तैयारियां पूर्ण कर ली गई है। सभी मंदिरों को फूल माला से सजाया जाएगा। पूजा पाठ का भव्य आयोजन भी कर लिया गया है। इस दौरान जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा, मुख्य कार्यपालक अधिकारी सुनील कुमार वर्मा, अपर मुख्य कार्यपालक अधिकारी निखिलेश कुमार मिश्रा, विशेष कार्याधिकारी उमेश कुमार सिंह सहित अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।

Loading...