धर्मपाल ने संदेश जारी करते हुए कहा है कि वह एकदम स्वस्थ हैं।

पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर एमडीएच संस्थापक महाशय धर्मपाल गुलाटी के निधन की खबर झूठी निकली है। रविवार को अब इस खबर पर उनके परिवार की ओर से जारी वीडियो में खुद धर्मपाल ने संदेश जारी करते हुए कहा है कि वह एकदम स्वस्थ हैं।धर्मपाल ने संदेश जारी करते हुए कहा है कि वह एकदम स्वस्थ हैं।आपको बता दें कि सोशल मीडिया और मेन स्ट्रीम मीडिया पर उनके निधन की अफवाह उड़ी थी और उसके बाद सोशल मीडिया पर तेजी से यह खबर तैरनी लगी थी।

पिछले तीन दिनों से सोशल मीडिया पर महाशय धर्मपाल गुलाटी के निधन की झूठी खबर चलने के बाद कीर्तिनगर स्थित एमडीएच कार्यालय में महाशय धर्मपाल ने केक काटकर अपना जन्मदिन मनाया। उन्होंने कहा कि मैं बिल्कुल ठीक हूं और अपने दैनिक कार्य कर रहा है।

साथ ही समाज सेवा में भी जुटा हुआ हूं। जब सोशल मीडिया में चल रही खबर के बारे में उनसे पूछा गया तो हंसते हुए उन्होंने कहा कि अभी तो मैं जवान हूं। मुझे कुछ नहीं हुआ है। रोजाना की तरह कार्यालय आया हूं और अपने काम कर रहा हूं।

महाशय धर्मपाल का गला ठीक नहीं होने के कारण वे ज्यादा बोलने में असमर्थ थे। कार्यालय में मौजूद लोगों ने कहा कि इस उम्र में भी ये अपने सभी कार्य करते हैं। कार्यालय में हो रहे कार्यों पर नजर रखते हैं। बहुत ही संयमित जीवन जीते हैं। भगवान इन्हें स्वस्थ रखें।

बता दें कि मसालों की दुनिया में बड़ा नाम बन चुके एमडीएच के सीईओ को ‘महाशय धर्मपाल गुलाटी’ के नाम से जाना जाता है। 

दैनिक जागरण संवाददाता ने खुद धर्मपाल के मोबाइल फोन पर बात कर उनके स्वस्थ होने की पुष्टि की है। उनकी करीबी अरुण ने संवाददाता को बताया कि धर्मपाल स्वस्थ हैं और रविवार को उन्होंने दिल्ली के सरिता विहार में आर्यदल के एक कार्यक्रम में भी भाग लिया था। 

वहीं, दामाद सुभाष शर्मा की मानें तो किसी ने उनके पिता चुन्नीलाल की फोटो लगाकर उनके निधन की अफवाह फैला दी, जिससे पूरी गफलत हुई।

यहां पर बता दें कि महाशय धर्मपाल गुलाटी का नाम मसालों की दुनिया में मशहूर है। उनका जन्म 1922 में पाकिस्तान के सियालकोट में हुआ, लेकिन बंटवारे के बाद उनका परिवार दिल्ली आ गया। उन्होंने यहां पर मसाले का काम शुरू किया और एमडीएच मसाला जैसी कंपनी खड़ी कर दी जो पूरी दुनिया में मसालों के लिए मशहूर है।

Loading...
IGNITED MINDS