भाजपा की गणित बिगड़ेगी राष्ट्रवादी कुर्मी महासभा

मनोज श्रीवास्तव/लखनऊ। अखिल भारतीय कुर्मी महासभा (छत्रपति शिवाजी महाराज वाहिनी) के अध्यक्ष और भाजपा नेता हरीश चौधरी भाजपा के वर्तमान नेतृत्व के रवैये से बहुत क्षुब्ध हैं। उन्होंने दोका सामना से विशेष बात-चीत में कहा है कि अपने पिछड़े कुर्मी नेताओं को सत्ता के ट्रैक से बाहर कर बाहरी दल के कुर्मी नेताओं को बढ़ाना भाजपा के लिए आत्मघाती कदम साबित होगा।

वह नवरात्र में कभी भाजपा में दिग्गज रहे उन नेताओं से संपर्क कर एक राष्ट्रवादी कुर्मी सम्मेलन करेंगे। जिसमें अपने समाज के वरिष्ठों को फिर से महत्वपूर्ण जिम्मेदारी दिलाने के लिए दबाव बनाएंगे। श्री चौधरी ने कहा कि पूर्व प्रदेश अध्यक्ष चौधरी ओम प्रकाश सिंह पटेल, पूर्व राष्ट्रीय महामंत्री भाजपा विनय कटियार, सांसद चौधरी पद्मसेन, सियाराम वर्मा को मुख्यधारा में लाने के लिए राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से मिल कर बात करेंगे।

उन्होंने कहा कि भाजपा का गुजरात नेतृत्व अपना दल अनुप्रिया पटेल गुट का पोषण कर अपना परमपरागत वोट बैंक स्वयं नाश करने पर तुल गया है। उत्तर प्रदेश में संभावित मंत्रिमंडल विस्तार में स्वतंत्रदेव सिंह को कैबिनेट मंत्री, अनुराग सिंह को मंत्री, सीताराम वर्मा को संगठन में प्रादेशिक जिम्मेदारी देने की मांग करेंगे। उन्होंने कहा कि अनुप्रिया पटेल अपनी मां और बहन से सत्ता के लिए जंग लड़ रही हैं जो सर्व विदित है। जिसदिन उनको भाजपा का जनाधार घटता दिखेगा वह भाजपा विरोधी किसी घटक की गोद में जा कर बैठ जाएंगी।

भाजपा नेतृत्व को यह नहीं भूलना चाहिए कि सत्ता के लिए अनुप्रिया उस पीस पार्टी के साथ मिल कर चुनाव लड़ चुकी हैं जिसका अध्यक्ष एक गरीब लड़की के शोषण और हत्या का आरोपी है।यदि भाजपा नेतृत्व अपने वर्तमान रवैये में सुधार नहीं किया तो उसे लोकसभा चुनाव में गंभीर परिणाम भुगतना पड़ेगा।

Loading...
IGNITED MINDS