पीसीएस 2017 मुख्य परीक्षा का स्कीम अचानक आने से प्रतियोगी छात्रों में रोष

इलाहाबाद : पीसीएस प्रारंभिक परीक्षा 2017 के परिणाम संशोधन के मामले में सुप्रीम कोर्ट से स्टे मिलने के बाद मुख्य परीक्षा के होने के रास्ते साफ हो गए। यद्यपि कि पूरा मामला अभी भी कोर्ट में विचाराधीन है जिसपर अगली सुनवाई 7 जुलाई मुकर्रर है। साथ ही आईएएस प्री परीक्षा भी 3 जून को निर्धारित है। साथ ही उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग की एलटी ग्रेड परीक्षा 24 जून को होना सुनिश्चित है। इसी बीच अस्सिस्टेंट प्रोफेसर की परीक्षा भी होनी है। दूसरी तरफ जून में ही एमपी पीसीएस मुख्य परीक्षा भी होनी है।इनसब को दरकिनार करते हुए आयोग ने पीसीएस 2017 मुख्य परीक्षा की समय सारिणी जारी कर दी। जबकि आयोग सचिव कल तक इस परीक्षा को मध्य जुलाई में कराने की बात कर रहे थे। अचानक आये इस फरमान से प्रतियोगोंयों में काफी रोष है वे परीक्षा को जुलाई या अगस्त में कराने के लिए आंदोलन की तैयारी में हैं। बताते चलें कि पीसीएस 2016 का परिणाम भी अभी तक कोर्ट में रहने के कारण आयोग जारी नहीं कर पा रहा है। ऐसे में प्रतियोगी छात्रों ने मांग की है कि पहले 2016 का रिजल्ट फाइनल किया जाय उसके बाद 2017 मुख्य परीक्षा कराई जाय
अगर ऐसा नहीं होता है तो 2016 में चयनित छात्र ही 2017 मुख्य परीक्षा में शामिल होंगे जिससे नए छात्रों को इसका नुकसान उठाना पड़ेगा। इनसब की परवाह किए बगैर उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने पीसीएस मुख्य परीक्षा का कार्यक्रम जारी कर दिया है। परीक्षा 18 जून से 6 जुलाई तक दो सत्रों में इलाहाबाद और लखनऊ के निर्धारित किए गए केंद्रों पर होगी।

Loading...
IGNITED MINDS