भोपाल में ‘वतन को जानो’ कार्यक्रम 1 से 6 दिसम्बर तक

भोपाल : नेहरू युवा केंद्र संगठन (युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय भारत सरकार) द्वारा गृह मंत्रालय भारत सरकार के सहयोग से मप्र जल एवं भूमि प्रबंध संस्थान (वाल्मी) में एक से छह दिसम्बर तक वतन को जानो कश्मीरी युवा आदान-प्रदान कार्यक्रम आयोजित होगा। उसमेें कश्मीर घाटी के संवेदनशील छह जिलों अनंतनाग, श्रीनगर, बारामुला, बड़गाम, पुलवामा एवं कुपवाड़ा से 18 से 22 उम्र के चयनित 132 युवा सहभागिता करेंगे। कार्यक्रम का उद्घाटन एक दिसम्बर को दोपहर 3:30 बजे से वाल्मी के सभागार में ब्रिगेडियर राजेश जोशी, संचालक वाल्मी उर्मिला शुक्ला के आतिथ्य में तथा राज्य निदेशक (नेहरू युवा केंद्र संगठन मध्य प्रदेश) त्रिलोकीनाथ मिश्रा की अध्यक्षता में संपन्न होगा।

छह दिवसीय कार्यक्रम में विभिन्न सत्रों पर व्याख्यान, सांची, मानव संग्रहालय, ताजुल मस्जिद तथा विभिन्न पर्यटक स्थलों के साथ शैक्षणिक संस्थाओं का भ्रमण, फूड फेस्टिवल, हस्तशिल्प प्रदर्शनी तथा प्रतिदिन सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे जिसमें कश्मीर एवं मध्य प्रदेश के युवा सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति करेंगे। जिला युवा समन्वयक डॉ सुरेंद्र शुक्ला ने बताया कि वतन को जानो कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य कश्मीर घाटी के युवाओं को देश के विभिन्न भागों में रहने वाले लोगों के साथ संवाद, अन्य राज्यों की संस्कृति से रूबरू, कश्मीर घाटी के पर्यटन स्थानीय उत्पादों, व्यंजनों, हस्तशिल्प आदि को बढ़ावा देना है।

Loading...
IGNITED MINDS