ओमप्रकाश राजभर ने मायावती की बात को ठीक कहते हुए कही ये बात, कहा…

वाराणसी। पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि बसपा सुप्रीमो मायावती आरक्षण खत्म करने की साजिश की बात कह रही हैं तो वह शत प्रतिशत सही हैं। अगर नहीं है तो मौजूदा सरकार 27 प्रतिशत आरक्षण का विभाजन क्यों नहीं करती। उसका हिस्सा सबको क्यों नहीं देती। मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि इस मुद्दे को उनकी पार्टी सुभासपा उठाएगी। एक रास्ता था जिस पर चलकर हम उत्थान की ओर जाते, उसे ही सरकार बदल रही है ताकि मंजिल तक गरीब आदमी न पहुंच सके।

ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि मजबूत सरकार रहती है तो मजबूती से गरीबों का गला दबाती है। बानगी के तौर पर देखें तो बनारस में 26 थानों में से 21 में सवर्ण हैं। चंदौली में 16 थाने हैं, 13 पर सवर्ण हैं। जौनपुर में 26 थाने हैं वहां 22 पर सवर्ण हैं। गाजीपुर में 26 थानें हैं उसमें से 22 पर सवर्ण हैं। आखिर यह गला दबाना नहीं तो और क्या है? अलीगढ़ में चल रहे जिन्ना प्रकरण पर कहा की जब दलित गरीबों और पिछड़ों का मुद्दा आता है तो कोई न कोई जिन्न बोतल से बाहर आ जाता है और उस पर सब चर्चा करते हैं। उन्होंने कहा कि जिन्ना महापुरुष नहीं है, क्योंकि अगर ऐसा होता तो वह पाकिस्तान अलग नहीं कराते।

यूपी में शराबबंदी को लेकर डिप्टी सीएम केशव प्रसाद के बयान पर पलटवार करते हुए मंत्री ने कहा कि गरीबों के हित की बात करने वाले जिस बच्चे का बाप मर गया, जिसका पति मर गया, उसके घर जाकर देखें। हमारी पार्टी की विचारधारा है कि देश में शराब बंदी होनी चाहिए। जो गरीबों को नुकसान पहुंचाए उसे बंद होना चाहिए।

Loading...
IGNITED MINDS