पुतिन के साथ शिखर सम्मेलन के लिए फिनलैंड के हेलसिंकी पहुंचे ट्रंप

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने रूसी समकक्ष ब्लादिमीर पुतिन के साथ पहली शिखर वार्ता के लिये हेलसिंकी पहुंच गए हैं. स्थानीय समयानुसार रात एयर फोर्स वन कल रात आठ बजकर 55 मिनट पर ट्रंप को लेकर हेलसिंकी हवाई अड्डा पहुंचा. ट्रंप और पुतिन के बीच आज ऐतिहासिक बैठक होने वाली है.अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने रूसी समकक्ष ब्लादिमीर पुतिन के साथ पहली शिखर वार्ता के लिये हेलसिंकी पहुंच गए हैं. स्थानीय समयानुसार रात एयर फोर्स वन कल रात आठ बजकर 55 मिनट पर ट्रंप को लेकर हेलसिंकी हवाई अड्डा पहुंचा. ट्रंप और पुतिन के बीच आज ऐतिहासिक बैठक होने वाली है.   मीडिया में आई खबरों के अनुसार फिनलैंड में अमेरिकी राजदूत रॉबर्ट पेंस ने उनकी अगवानी की. इसके बाद रात में आराम के लिये जिस जगह पर उनके ठहरने की व्यवस्था की गई है वहां के लिये वो रवाना हो गए.   फिनलैंड की राजधानी के लिये रवाना होने से पहले उन्होंने ट्वीट किया. ट्रंप ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘हेलसिंकी, फिनलैंड के लिये रवाना हो रहा हूं-रूसी राष्ट्रपति पुतिन से कल मिलने को उत्सुक हूं.’’     Donald J. Trump ✔ @realDonaldTrump  Heading to Helsinki, Finland – looking forward to meeting with President Putin tomorrow. Unfortunately, no matter how well I do at the Summit, if I was given the great city of Moscow as retribution for all of the sins and evils committed by Russia...  9:48 PM - Jul 15, 2018 58.5K 28.4K people are talking about this Twitter Ads info and privacy   ट्रंप को सम्मेलन से कुछ खास उम्मीद नहीं   अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन के साथ होने वाले अहम शिखर सम्मेलन से कुछ खास उम्मीदें नहीं हैं. उन्होंने कहा कि ‘इस सम्मेलन से कुछ भी बुरा नहीं होने वाला है और हो सकता है कि कुछ अच्छा निकल आए.’   2016 के अमेरिकी चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के ईमेल हैक किये जाने के मामले में पिछले सप्ताह 12 रूसी खुफिया अधिकारियों को आरोपी बनाया गया है. राष्ट्रपति ट्रंप ने ‘सीबीसी न्यूज’ से एक इंटरव्यू में कहा कि उन्होंने इनके प्रत्यर्पण के लि पुतिन से कुछ कहने के बारे में नहीं सोचा.   ट्रंप का इंटरव्यू लेने वाले ने जब यह सवाल किया तब अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘निश्चित रूप से मैं इस बारे में बात करूंगा.” अमेरिका की रूस के साथ कोई प्रत्यर्पण संधि नहीं है और इस वजह से वह इन लोगों को सौंपने के लिए मॉस्को पर दबाव नहीं बना सकता है.

मीडिया में आई खबरों के अनुसार फिनलैंड में अमेरिकी राजदूत रॉबर्ट पेंस ने उनकी अगवानी की. इसके बाद रात में आराम के लिये जिस जगह पर उनके ठहरने की व्यवस्था की गई है वहां के लिये वो रवाना हो गए.

फिनलैंड की राजधानी के लिये रवाना होने से पहले उन्होंने ट्वीट किया. ट्रंप ने अपने ट्वीट में कहा, ‘‘हेलसिंकी, फिनलैंड के लिये रवाना हो रहा हूं-रूसी राष्ट्रपति पुतिन से कल मिलने को उत्सुक हूं.’’

ट्रंप को सम्मेलन से कुछ खास उम्मीद नहीं

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को अपने रूसी समकक्ष व्लादिमीर पुतिन के साथ होने वाले अहम शिखर सम्मेलन से कुछ खास उम्मीदें नहीं हैं. उन्होंने कहा कि ‘इस सम्मेलन से कुछ भी बुरा नहीं होने वाला है और हो सकता है कि कुछ अच्छा निकल आए.’

2016 के अमेरिकी चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के ईमेल हैक किये जाने के मामले में पिछले सप्ताह 12 रूसी खुफिया अधिकारियों को आरोपी बनाया गया है. राष्ट्रपति ट्रंप ने ‘सीबीसी न्यूज’ से एक इंटरव्यू में कहा कि उन्होंने इनके प्रत्यर्पण के लि पुतिन से कुछ कहने के बारे में नहीं सोचा.

ट्रंप का इंटरव्यू लेने वाले ने जब यह सवाल किया तब अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा, ‘‘निश्चित रूप से मैं इस बारे में बात करूंगा.” अमेरिका की रूस के साथ कोई प्रत्यर्पण संधि नहीं है और इस वजह से वह इन लोगों को सौंपने के लिए मॉस्को पर दबाव नहीं बना सकता है.

Loading...
IGNITED MINDS