मध्य प्रदेश: 14 महीने की बच्ची को रिश्तेदार ने बनाया हवस का शिकार

मध्य प्रदेश के विदिशा जिले के एक गांव में 14 महीने की एक बच्ची के साथ रेप की सनसनीखेज वारदात सामने आई है. हैरान की बात ये है कि इस वारदात को पीड़ित बच्ची के एक रिश्तेदार ने ही अंजाम दिया है. पीड़िता के परिजनों की तहरीर के आधार पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज करते हुए गिरफ्तार कर लिया है.मध्य प्रदेश के विदिशा जिले के एक गांव में 14 महीने की एक बच्ची के साथ रेप की सनसनीखेज वारदात सामने आई है. हैरान की बात ये है कि इस वारदात को पीड़ित बच्ची के एक रिश्तेदार ने ही अंजाम दिया है. पीड़िता के परिजनों की तहरीर के आधार पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज करते हुए गिरफ्तार कर लिया है.  पुलिस अधीक्षक विनीत कपूर ने बताया कि यह घटना मंगलवार को उस समय हुई जब आरोपी जिले के लातेरी तहसील में स्थित पीड़िता के घर गया. उसके साथ खेलने के बहाने उसे अपने घर ले आया. इसके बाद आरोपी का 13 वर्षीय बेटा बच्ची के घर यह कहते हुए आया कि उसके घर में कंटीले तार पर गिर गई थी. उसे चोटें आई हैं.  इसके बाद बच्ची के प्राइवेट पार्ट पर जख्म देखकर उसकी मां उसे अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टरों ने बच्ची के साथ यौन उत्पीड़न की बात बताई. पीड़िता की मां उसे लेकर थाने पहुंची. पुलिस ने बताया कि मां की तहरीर के आधार पर आरोपी के खिलाफ आईपीसी और पॉक्सो कानून के तहत केस दर्ज करके उसे गिरफ्तार कर लिया गया है.  बताते चलें कि यूपी के आजमगढ़ जिले के बिलरियागंज थाना क्षेत्र के एक गांव में चौदह साल की एक लड़की को अगवा कर उसके साथ गैंगरेप किए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया था. पीड़िता की तहरीर के आधार पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था. दो समुदायों के बीच मामला होने की वजह से गांव में तनाव हो गया.  पुलिस अधीक्षक (एसपी) ग्रामीण नरेंद्र प्रताप सिंह ने बताया था, 'बिलरियागंज थाना क्षेत्र के एक गांव में पड़ोस के दो युवक 14 साल की एक लड़की रुखसाना (परिवर्तित नाम) को उसके घर से उस समय उठा ले गए, जब वह वह घर में अकेली थी. लड़की की मां किसी काम से घर से बाहर चली गई थी. कुछ देर बाद उसकी मां घर लौटी और शैंपू लेने दुकान गई.'  वहां उसकी बेटी का दुपट्टा पड़ा था. घर लौटने पर उसने दुपट्टे के बारे में बेटी से पूछा. पहले तो वह चुप रही, लेकिन जब मां पीटने लगी, तब लड़की ने बताया कि दो युवक उसे जबरन उठा ले जाने और दुकान का शटर लगाकर अंदर दोनों ने उसके साथ गैंगरेप किया. इसके बाद मां उसे लेकर थाने पहुंची. वहां पीड़िता की तहरीर पर केस दर्ज किया गया था.

पुलिस अधीक्षक विनीत कपूर ने बताया कि यह घटना मंगलवार को उस समय हुई जब आरोपी जिले के लातेरी तहसील में स्थित पीड़िता के घर गया. उसके साथ खेलने के बहाने उसे अपने घर ले आया. इसके बाद आरोपी का 13 वर्षीय बेटा बच्ची के घर यह कहते हुए आया कि उसके घर में कंटीले तार पर गिर गई थी. उसे चोटें आई हैं.

इसके बाद बच्ची के प्राइवेट पार्ट पर जख्म देखकर उसकी मां उसे अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टरों ने बच्ची के साथ यौन उत्पीड़न की बात बताई. पीड़िता की मां उसे लेकर थाने पहुंची. पुलिस ने बताया कि मां की तहरीर के आधार पर आरोपी के खिलाफ आईपीसी और पॉक्सो कानून के तहत केस दर्ज करके उसे गिरफ्तार कर लिया गया है.

बताते चलें कि यूपी के आजमगढ़ जिले के बिलरियागंज थाना क्षेत्र के एक गांव में चौदह साल की एक लड़की को अगवा कर उसके साथ गैंगरेप किए जाने का सनसनीखेज मामला सामने आया था. पीड़िता की तहरीर के आधार पर पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था. दो समुदायों के बीच मामला होने की वजह से गांव में तनाव हो गया.

पुलिस अधीक्षक (एसपी) ग्रामीण नरेंद्र प्रताप सिंह ने बताया था, ‘बिलरियागंज थाना क्षेत्र के एक गांव में पड़ोस के दो युवक 14 साल की एक लड़की रुखसाना (परिवर्तित नाम) को उसके घर से उस समय उठा ले गए, जब वह वह घर में अकेली थी. लड़की की मां किसी काम से घर से बाहर चली गई थी. कुछ देर बाद उसकी मां घर लौटी और शैंपू लेने दुकान गई.’

वहां उसकी बेटी का दुपट्टा पड़ा था. घर लौटने पर उसने दुपट्टे के बारे में बेटी से पूछा. पहले तो वह चुप रही, लेकिन जब मां पीटने लगी, तब लड़की ने बताया कि दो युवक उसे जबरन उठा ले जाने और दुकान का शटर लगाकर अंदर दोनों ने उसके साथ गैंगरेप किया. इसके बाद मां उसे लेकर थाने पहुंची. वहां पीड़िता की तहरीर पर केस दर्ज किया गया था.

Loading...
IGNITED MINDS