अब एक ही घर में रहेंगे बोनी कपूर के चारों बच्चे! ऐसी है प्लानिंग

श्रीदेवी के निधन के बाद से बोनी कपूर के चारों बच्चे करीब आ गए हैं. बोनी अपनी बेटियों (जाह्नवी-खुशी) के साथ रहते हैं. वहीं अर्जुन कपूर और अंशुला दूसरे घर में. अक्सर उन्हें एक-दूसरे के घर पर स्पॉट किया जाता है. सूत्रों के हवाले से खबर है कि बोनी अपने चारों बच्चों के साथ एक ही घर में रहने का प्लान कर रहे हैं.श्रीदेवी के निधन के बाद से बोनी कपूर के चारों बच्चे करीब आ गए हैं. बोनी अपनी बेटियों (जाह्नवी-खुशी) के साथ रहते हैं. वहीं अर्जुन कपूर और अंशुला दूसरे घर में. अक्सर उन्हें एक-दूसरे के घर पर स्पॉट किया जाता है. सूत्रों के हवाले से खबर है कि बोनी अपने चारों बच्चों के साथ एक ही घर में रहने का प्लान कर रहे हैं.  बॉलीवुड हंगामा ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि ''बोनी चारों बच्चों के बीच की बॉन्डिंग देखने के बाद सभी के साथ एक ही घर में रहने की प्लानिंग कर रहे हैं. मुश्किल की घड़ी में बोनी ने देखा कि कैसे उनके बच्चे साथ आए और एक-दूसरे को सपोर्ट किया. ऐसे में बोनी साथ में रहने के बारे में सोच रहे हैं.''  धड़क के बाद जाह्नवी-ईशान के पास नहीं है काम? जानें क्या है सच  सूत्र बताते हैं ''ये परिवार किस घर में साथ रहेगा इस बात पर समस्या है. दरअसल, जाह्नवी-खुशी जहां रहते हैं वहां श्रीदेवी से जुड़ी यादें हैं, वहीं अर्जुन-अंशुला जहां रहते हैं वहां उनकी मां मोना कपूर रहा करती थीं. दोनों ही घरों से बच्चों के इमोशन जुड़े हुए हैं.''  धड़क की कमाई में 50% उछाल, कुल आंकड़ा 60 करोड़ के करीब  अब बोनी किस तरह से चारों बच्चों को एक छत के नीचे लेकर आते हैं, ये देखना मजेदार होगा. श्रीदेवी के निधन के बाद से अर्जुन जाह्नवी-खुशी के साथ हर वक्त खड़े नजर आते हैं. वे अंशुला की ही तरह जाह्नवी-खुशी को भी सपोर्ट करते हैं. भाई-बहनों की बॉन्डिंग कई बार सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भी देखने को मिली है.

बॉलीवुड हंगामा ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि ”बोनी चारों बच्चों के बीच की बॉन्डिंग देखने के बाद सभी के साथ एक ही घर में रहने की प्लानिंग कर रहे हैं. मुश्किल की घड़ी में बोनी ने देखा कि कैसे उनके बच्चे साथ आए और एक-दूसरे को सपोर्ट किया. ऐसे में बोनी साथ में रहने के बारे में सोच रहे हैं.”

सूत्र बताते हैं ”ये परिवार किस घर में साथ रहेगा इस बात पर समस्या है. दरअसल, जाह्नवी-खुशी जहां रहते हैं वहां श्रीदेवी से जुड़ी यादें हैं, वहीं अर्जुन-अंशुला जहां रहते हैं वहां उनकी मां मोना कपूर रहा करती थीं. दोनों ही घरों से बच्चों के इमोशन जुड़े हुए हैं.”

अब बोनी किस तरह से चारों बच्चों को एक छत के नीचे लेकर आते हैं, ये देखना मजेदार होगा. श्रीदेवी के निधन के बाद से अर्जुन जाह्नवी-खुशी के साथ हर वक्त खड़े नजर आते हैं. वे अंशुला की ही तरह जाह्नवी-खुशी को भी सपोर्ट करते हैं. भाई-बहनों की बॉन्डिंग कई बार सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भी देखने को मिली है.

Loading...
IGNITED MINDS