शिया धर्मगुरु मौलाना डॉ.कल्बे सादिक का इंतकाल, सीएम योगी ने जताया शोक

लखनऊ। ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के उपाध्यक्ष और प्रसिद्ध शिया धर्मगुरु मौलाना डॉ.कल्बे सादिक का मंगलवार देर रात इंतकाल हो गया। लखनऊ स्थित एरा मेडिकल कॉलेज में 83 वर्ष की उम्र में उन्होंने अंतिम सांस ली। मौलाना डॉ. कल्बे सादिक लम्बे समय से बीमार चल रहे थे और उन्हें अस्पताल में भी वेंटीलेटर सपोर्ट पर रखा हुआ था। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। मौलाना कल्बे सादिक को बीते 17 नवम्बर को लखनऊ के अस्पताल में भर्ती कराया गया था। वह कैंसर, गंभीर निमोनिया और मूत्राशय संबंध संक्रमण आदि रोगों से पीड़ित चल रहे थे। मंगलवार को उनकी तबियत नाजुक हुई तो उन्हें आईसीयू में भर्ती कराया गया था। मौलाना कल्बे के निधन की खबर उनके बेटे सिब्तैन नूरी ने दी।

मौलाना कल्बे सादिक की पूरी दुनिया में ख्याति थी। शिक्षा के क्षेत्र में उन्होंने काफी कार्य किया। खासतौर से लड़कियों और निर्धन बच्चों की शिक्षा के लिए वह हमेशा सक्रिय रहे। वह यूनिटी कॉलेज और एरा मेडिकल कॉलेज के सरंक्षक भी थे। वह एक ऐसे शिया धर्मगुरु थे जिनकी विद्वता के कायल हर धर्म में हैं। वह दिखावे से दूर और बहुत ही सादगी पसंद थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मौलाना कल्बे सादिक के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। उन्होंने दिवंगत आत्मा की शांति की कामना करते हुए शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। वहीं समाजवादी पार्टी की ओर से कहा गया कि शिया धर्मगुरु और इस्लामिक स्कॉलर मौलाना डॉ. कल्बे सादिक साहब का लखनऊ में इंतकाल अत्यंत दुखद! शोकाकुल परिवार एवं उनके सभी चाहने वालों के प्रति गहन संवेदना, भावभीनी श्रद्धांजलि।

Loading...
IGNITED MINDS