अखिलेश ने BJP शासनकाल को लेकर कहा- नारी अस्मिता सुरक्षित नहीं

लखनऊ। देवरिया कांड के बाद मेरठ में छात्रा से छेड़छाड़ व विरोध करने पर आग से जलाने की घटना ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को भाजपा सरकार पर हमला करने का एक और अवसर दे दिया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में नारी अस्मिता सुरक्षित नहीं है। अखिलेश ने इस प्रकरण को लेकर ट्वीट भी किया। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि मेरठ में छात्रा से छेड़छाड़ व विरोध करने पर आग से जलाने की दर्दनाक घटना ने प्रदेश में बच्चियां और अभिभावकों को दहशत से भर दिया है। जब से प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी है, राज्य अपराधों से कराह उठा है। छात्राओं का इज्जत के साथ जीना दूभर है। राज्य में कोई दिन ऐसा नहीं जाता, जब किसी कोने से दु:खद घटनाओं की खबर न आती हो। 

न्याय के मंदिर में पीड़िता को पीटा 

अखिलेश ने कहा कि अभी पिछले दिनों देवरिया के महिला संरक्षणगृह में लड़कियों के गायब होने, रात-रात भर बाहर भेजने और रोते हुए सुबह उनकी वापसी का मामला प्रकाश में आया था। बलिया में छह वर्ष की बच्ची के साथ मुंह काला करने की शर्मनाक घटना घटी। बच्ची 15 अगस्त, स्वतंत्रता दिवस से गायब थी। दुष्कर्म के चार दिन बाद बमुश्किल एफआइआर दर्ज हो पाई। राजधानी लखनऊ में ही पीडि़ता को न्याय के मंदिर में ही पीटा गया। मडिय़ांव क्षेत्र में किशोरी से मुंह काला करने के बाद ईंट से उसका चेहरा कुचला गया। ऐसी ही कई घटनाएं हैं।

भाजपा शासन में महिला उत्पीडऩ बढ़ाः कांग्रेस

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता अंशु अवस्थी ने आरोप लगाया कि भाजपा शासन काल में महिलाओं पर अत्याचार व उत्पीडऩ बढ़ा है। उन्होंने कहा कि उत्पीडऩ की शिकार महिलाएं मुख्यमंत्री से न्याय की आस में मिलने जाती है तो उन्हें निराशा ही हाथ लगती है। मेरठ, बागपत व उन्नाव जैसी घटनाओं का जिक्र करते हुए प्रवक्ता ने आरोप लगाया कि प्रदेश में जंगलराज है और सरकार ने अपराधियों को मनमानी की छूट दे रखी है।

Loading...
IGNITED MINDS