UAE में जॉब की चाहत रखने वालों को भारतीय मिशन ने किया अलर्ट, कहीं यह बात

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) अगर आप नौकरी की चाहत रखते हैं तो आपके लिए ये खबर जरूरी है। दरअसल यूएई में भारतीय मिशन ने संयुक्त अरब अमीरात में करने करने वालों को अलर्ट किया है। यूएई में भारतीय मिशन ने वहां नौकरी चाहने वाले लोगों को फर्जी एजेंटों से सतर्क रहने के लिए कहा है। गल्फ न्यूज की रिपोर्ट के मुताबिक, यह चेतावनी एक शीर्ष भारतीय अधिकारी ने भर्ती एजेंटों द्वारा विदेश में भारतीय के जीवन को खतरे में डालने के मद्देनजर जारी की है।

आपको बात दें कि इस सप्ताह की शुरुआत में विदेश मंत्रालय में भारत सरकार के सचिव, संजय भट्टाचार्य ने कहा था कि ‘चिंता की बात है कि कुछ बेईमान एजेंट हमारे नागरिकों का शोषण कर रहे हैं और उन्हें विदेश में जोखिम में डाल रहे हैं। भर्ती एजेंटों को जिम्मेदारी से काम करना चाहिए या फिर उन्हें जवाबदेह ठहराया जाएगा।’ साथ ही भट्टाचार्य के पोस्ट को रिट्वीट करते हुए अबू धाबी में भारतीय दूतावास ने कहा कि दुबई में मिशन और भारतीय वाणिज्य दूतावास ने ऐसे एजेंटों के खिलाफ शिकायतों पर कार्रवाई की और उन्हें न्याय दिलाया है। दूतावास ने कहा, “हम ऐसे सभी एजेंटों के खिलाफ रिपोर्ट करने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। आपकी सक्रियता किसी के जीवन को बदल सकती है।”

गल्फ न्यूज से बात करते हुए, दूतावास में प्रेस, सूचना और संस्कृति के सेकेंड सेक्रेटरी, संदीप कौशिक ने पुष्टि की कि कोविड-19 लॉकडाउन के बाद बेईमान भर्ती एजेंटों की गतिविधियों में वृद्धि हुई है। भारत के महावाणिज्य दूत, अमन पुरी ने भी पुष्टि की कि एजेंटों द्वारा धोखाधड़ी के मामले थे, जिन्हें मिशन के संज्ञान में लाया गया था। पुरी ने कहा कि एक कुशल कार्यकर्ता को उचित दस्तावेज के साथ देश को छोड़ना चाहिए।

आपको बता दें कि पिछले दिनों सोशल मीडिया के माध्यम से फर्जी नौकरी की पेशकश के झांसे में आने के बाद नौ भारतीय संयुक्त अरब अमीरात (UAE) में फंस गए। खलीज टाइम्स की खबर के अनुसार, केरल के ये सभी लोग अल ऐन और अजमान में फंसे हुए हैं। उनका दावा है कि वे वॉट्सऐप के जरिए शफीक नामक एजेंट से मिले थे और उन्होंने संयुक्त अरब अमीरात के यात्रा वीजा के लिए 70000 रुपये का भुगतान किया था।

Loading...
IGNITED MINDS