तरुण सागर से जब विशाल डडलानी को मांगनी पड़ी थी कई तरह से माफी

कड़वे प्रवचन के लिए मशहूर जैन मुनि तरुण सागर सामाजिक और राष्ट्रीय मुद्दों को लेकर काफी मुखर रहा करते थे. साथ ही वे कई हस्तियों से हुए मतभेदों को लेकर भी चर्चा में रहे. एेसा ही एक वाक्या हुआ जब सीएम अरविंद केजरीवाल की पार्टी आप से जुड़ने के बाद संगीतकार विशाल डडलानी मुनि के खिलाफ बयानबाजी को लेकर फंस गए थे. दरअसल विशाल ने हरियाणा विधानसभा में जैन मुनि के प्रवचनों के बाद आपत्तिजनक ट्वीट कर दिया था.तरुण सागर से जब विशाल डडलानी को मांगनी पड़ी थी कई तरह से माफी

चौतरफा घिरे विशाल डडलानी जहां एक तरफ मामले में लगातार आलोचना झेल रहे थे, वहीं दूसरी तरफ उनपर गिरफ्तारी की तलवार भी लटकी हुई थी.

पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने विशाल को तुरंत अम्बाला पुलिस के समक्ष पेश होकर तफ्तीश में शामिल होने का आदेश दिया था. इसके बाद विशाल के पास दो ही ऑप्शन थे. या तो कानूनी लड़ाई लड़ें या माफी मांग कर निपटारा करें.

लिहाजा 21 सितंबर 2016 को विशाल सुबह तरुण सागर के पास पहुंचे और उनके सामने हाथ जोड़कर, सर झुकाकर और कान पकड़कर माफी मांगी. जैन मुनि ने विशाल डडलानी को माफ कर दिया और जैन समुदाय से मामले को खत्म करने की अपील की.

बता दें कि डडलानी के खिलाफ इस मामले में देश भर में कई पुलिस शिकायतें दर्ज हुई थी. अरविंद केजरीवाल ने भी उनसे पल्ला झाड़ लिया था. दिल्ली के मंत्री सत्येन्द्र जैन खुद मुनि जी से माफी मांगने पहुंचे थे, लेकिन ये विवाद थमा नहीं था.

जैन मुनि के अनुयायी चाहते थे कि खुद विशाल व्यक्तिगत रूप से पेश होकर मुनि जी से माफी मांगें. विशाल ने न सिर्फ माफी मांगी बल्कि मुनि जी महाराज को बड़ा संत बताया और कहा कि उन्हें उनके बारे में जानकारी नहीं थी. जैन मुनि ने भी विशाल को कड़वे प्रवचनों की किताबें भेंट की.

साथ ही मुनि जैन ने कहा कि जिस दिन से ये ट्वीट हुआ था उसी दिन से आम आदमी पार्टी में हर दिन एक बुरी खबर सुनाई देती थी, लेकिन अब सब ठीक हो जाएगा.

Loading...
IGNITED MINDS