ट्रंप जैसे दोस्त हो तो दुश्मन की जरूरत नहीं: ईयू के अध्यक्ष

यूरोपीय यूनियन के टॉप अधिकारी ने कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप दोस्त की तरह नहीं बल्कि दुश्मनों की तरह बर्ताव कर रहे हैं. ईयू के अध्यक्ष डोनाल्ड टस्क ने कल बुल्गारिया में हुई एक बैठक में यूरोपीय संघ के नेताओं से कहा कि ईरान के साथ परमाणु समझौते से ट्रंप के पीछे हटने और अमेरिका के यूरोप पर व्यापार संबंधी शुल्क लगाए जाने के खिलाफ वह एक ‘ संयुक्त यूरोपीय मोर्चा ’ बनाएं.

टस्क ने अमेरिकी प्रशासन की तुलना यूरोप के पारंपरिक विरोधी रूस और चीन से की. टस्क ने संवाददाताओं से कहा , ‘‘ राष्ट्रपति ट्रंप के हालिया फैसलों को देखकर कोई भी यही सोचेगा कि अगर ट्रंप जैसे दोस्त हैं तो दुश्मनों की किसे जरूरत है. ’’ यूरोप के मंत्रियों ने मंगलवार को ब्रसेल्स में ईरान के एक शीर्ष अधिकारी से मुलाकात की थी. ईरान के साथ परमाणु समझौते से अमेरिका के पीछे हटने के बाद इस समझौते को बचाने के मकसद से यह मुलाकात की गई थी.

टस्क ने बढ़ती चुनौतियों का सामना करने के लिए बंटे हुए ईयू में और एकजुटता का अनुरोध किया. टस्क ने कहा चीन के उभार और रूस के आक्रमक रूख जैसी राजनीतिक चुनौतियों के अलावा, हम आज नए घटनाक्रम को देख रहे हैं जिसमें अमेरिकी प्रशासन मनमाने और एकतरफा फैसले लेने पर अड़ा हुआ है.बातचीत के बाद, यूरोप की ओर से एक सूत्र ने बताया कि नेताओं ने ईरान के साथ समझौते पर, ‘एकजुट ईयू’ पर सहमति जताई और कहा कि अगर ईरान इसका पालन करता है तो समझौते का समर्थन जारी रहेगा. ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे , जर्मनी की चालंसलर एंजिला मर्केल और फ्रांस के राष्ट्रपति एमैनुएल मैक्रों ने हालात पर अपने विचार रखे. ब्रिटेन , जर्मनी , फ्रांस , अमेरिका , रूस और चीन ने ईरान समझौते पर हस्ताक्षर किए थे. जिसमें से अमेरिका ने अपना समर्थन वापस ले लिया है.

Loading...

Powered by themekiller.com anime4online.com animextoon.com apk4phone.com tengag.com moviekillers.com