जनपद के सभी स्वास्थ्य इकाइयों पर मना अंतराल दिवस, महिलाओं ने लिया लाभ

बाराबंकी । कोविड 19 के सभी नियमों का पालन करते हुए परिवार नियोजन के तहत जनपद के सभी सामुदायिक और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर‘अंतराल दिवस’ का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम को और सशक्त बनाने के लिए जनपद की सभी स्वास्थ्य इकाइयों पर अंतराल दिवस एवं प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान दिवस मनाया गया। इस दौरान जिले के स्वास्थ्य केन्द्रों पर  पहुंचने वाली महिलाओं को गर्भनिरोधक के अस्थाई साधनों का लाभ मिला। साथ ही उनकी गर्भनिरोधक कई शंकाओं का समाधान भी किया गया।

परिवार नियोजन विशेषज्ञ जुबैर अंसारी ने बताया स्वास्थ्य इकाइयों पर पहुंचने वाली महिलाओं को गर्भनिरोधक के अस्थाई साधनों में 19 महिलाओं ने पीपीआईयूसीडी, 15 महिलाओं ने आईयूसीडी, 45 महिलाओं ने छाया, 42 महिलाओं ने अंतरा तिमाही गर्भनिरोधक इंजेक्शन व 78 संस्थागत प्रसव सहित परिवार नियोजन के आस्थाई साधनों के बारे में विस्तार से जानकारी देते हुए महिलाओ को लाभ पहुंचया गया। साथ ही परिवार नियोजन से जुड़ी भ्रांतियों और मिथकों का समाधान भी किया गया। उन्होंने बताया कि अंतरा केयरलाइन 1800-103-3044 के जरिए महिलाएं इससे आसानी से जुड़ सकती हैं। इस टोल-फ्री नंबर से बड़ी आसानी से अपने हर सवाल का जवाब घर बैठे ही ले सकती हैं।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा बीकेएस चौहान ने बताया कि जिले के सभी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र व प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर परिवार नियोजन कार्यक्रम के अंतर्गत अंतराल दिवस प्रत्येक आशा के द्वारा कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अपने कार्य क्षेत्र में भ्रमण के दौरान कोविड19 व उक्त साधनों के बारे में जागरूक कर छाया, माला आदि का वितरण कार्य किया गया।

उन्होने बताया कि परिवार नियोजन की यह सुविधाएं अपनाने से मातृ मृत्यु में 30 फीसदी एवं शिशु मृत्यु दर में 10 फीसदी सुधार लाया जा सकता है। ‘अंतराल दिवस’ पर इच्छुक लाभार्थी को लाने की जिम्मेदारी आशा कार्यकर्ता को दी गई थी ।इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य शादी के बाद नव दंपत्तियों को पहले बच्चे में दो साल तथा पहले व दूसरे बच्चे के बीच तीन साल का अंतराल रखने पर विशेष ध्यान देना है। इसके लिए सभी प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिये जा चुके हैं।

Loading...
IGNITED MINDS