मुनाफावसूली के कारण शेयर बाजार की तेजी पर ब्रेक

नई दिल्ली। भारतीय शेयर बाजार में मंगलवार को एक बार फिर जोरदार उतार चढ़ाव के आसार नजर आने लगे हैं। दिन के पहले सत्र में शानदार तेजी के साथ कारोबार करने वाला शेयर बाजार पहला सत्र खत्म होने के पहले ही बिकवाली के दबाव में फंसकर 600 अंक से ज्यादा लुढ़ककर लाल निशान में पहुंच गया। हालांकि इसके बाद इसने एक बार फिर तेजी दिखाई और हरे निशान में कारोबार करने लगा। कुल मिलाकर अभी तक शेयर बाजार में कभी मजबूती तो कभी कमजोरी का ही नजारा हो रहा है।

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के सेंसेक्स ने मिले-जुले ग्लोबल संकेतों के बीच 30.85 अंक की सांकेतिक मजबूती के साथ 60 हजार,997.90 अंक के स्तर से आज के कारोबार की शुरुआत की। कारोबार की शुरुआत होते ही खरीदारों ने मोर्चा संभाल लिया और जमकर खरीदारी शुरू कर दी। इसके कारण सेंसेक्स कुलांचे भरते हुए आगे बढ़ने लगा। शुरुआती 15 मिनट के कारोबार में ही सेंसेक्स 383.44 अंक की छलांग लगाकर 61 हजार,350.49 अंक के स्तर पर पहुंच गया। इस स्तर पर बाजार में हल्की बिकवाली भी हुई, जिसके कारण ये सूचकांक भी करीब 150 अंक गिरकर 61 हजार,201 अंक के स्तर पर पहुंच गया। लेकिन इसके बाद दोबारा शुरू हुई खरीदारी ने सेंसेक्स में तेजी का रुख बना दिया। इससे ये सूचकांक एक बार फिर तेजी से आगे बढ़ने लगा।

सेंसेक्स की ये तेजी सुबह 10 बजे के कुछ मिनट बाद तक बनी रही, लेकिन उसके बाद बिकवाली के दबाव में ये सूचकांक लगातार नीचे की ओर लुढ़कने लगा। इस कारण 11 बजे के कुछ देर पहले ही सेंसेक्स दिन के पहले कारोबारी सत्र के टॉप लेवल से 613.58 अंक लुढ़क कर 60 हजार,791.29 अंक के स्तर पर पहुंच गया। हालांकि इस स्तर पर पहुंचने के बाद बाजार में मामूली खरीदारी भी शुरू हो गई, जिसके कारण सेंसेक्स में सुधार आता हुआ नजर आने लगा। इस खरीदारी के सपोर्ट से दोपहर 12 बजे के थोड़ी देर पहले ही सेंसेक्स एक बार फिर हरे निशान में पहुंचकर कारोबार करने लगा। फिलहाल शुरुआती 3 घंटे का कारोबार होने के बाद दोपहर 12:15 बजे सेंसेक्स 28.65 अंक की सांकेतिक मजबूती के साथ 60 हजार,995.70 अंक के स्तर पर कारोबार कर रहा था।

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज एनएसई के (निफ्टी) ने भी आज के कारोबार की शुरुआत 29.10 अंक की मामूली बढ़त के साथ 18 हजार,154.50 अंक के स्तर से की। कारोबार की शुरुआत में निफ्टी को भी बाजार में हो रही चौतरफा खरीदारी का पूरा सपोर्ट मिला, जिसके कारण ये सूचकांक करीब 125 अंक की छलांग के साथ 18 हजार,251.10 अंक के स्तर पर पहुंच गया। इस स्तर पर पहुंचने के बाद मामूली मुनाफावसूली के कारण निफ्टी में करीब 30 अंकों की गिरावट भी आई, लेकिन दोबारा शुरू हुई खरीदारी ने निफ्टी को एक बार फिर ऊंचाई का रास्ता दिखा दिया।

निफ्टी की इस तेजी पर सुबह 10 बजे के बाद शुरू हुई बिकवाली के कारण ब्रेक लग गया और ये सूचकांक तेजी से नीचे गिरने लगा। निफ्टी में गिरावट का सिलसिला दोपहर 11:30 बजे तक जारी रहा। उस समय तक निफ्टी पहले सत्र के टॉप लेवल से करीब 165 अंक गिरकर 18 हजार,099.30 अंक के स्तर तक पहुंच गया था। हालांकि इसके बाद शुरू हुई खरीदारी ने एक बार फिर निफ्टी को मजबूती दे दी, जिससे ये सूचकांक शानदार तरीके से रिकवर करते हुए दोबारा हरे निशान में आ गया। खरीदारी के सपोर्ट से 3 घंटे का कारोबार होने के बाद 12:15 बजे निफ्टी 39.25 अंक की मजबूती के साथ 18 हजार,163.65 अंक के स्तर पर कारोबार कर रहा था।

अभी तक के कारोबार में दिग्गज शेयरों में से टाटा मोटर्स 4.65 फीसदी, टेक महिंद्रा 2.45 फीसदी, ग्रासिम इंडस्ट्रीज 2.38 फीसदी, एसबीआई लाइफ इंश्योरेंस 2.36 फीसदी और टाइटन कंपनी 2.24 फीसदी की मजबूती के साथ अभी तक के टॉप फाइव गेनर्स की सूची में शामिल हो चुके हैं। दूसरी ओर एक्सिस बैंक 2.08 फीसदी, इंडसइंड बैंक 1.92 फीसदी, कोटक महिंद्रा बैंक 1.4 फीसदी, आईसीआईसीआई बैंक 1.31 फीसदी और हिंद यूनिलीवर 0.97 फीसदी की कमजोरी के साथ अभी तक के टॉप फाइव लूजर की सूची में अपना नाम दर्ज करा चुके हैं।

Loading...