WHO का अनुमान, दुनिया भर में केवल 10 फीसदी लोगों में कोरोना वायरस एंटीबॉडी मौजूद

डब्ल्यूएचओ की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने कहा कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) का अनुमान है कि वैश्विक आबादी के 10 फीसद से भी कम लोगों में कोरोना वायरस एंटीबॉडी मौजूद हैं। स्वामीनाथन ने रविवार को एक साक्षात्कार में कहा, जो उन्होंने आधिकारिक डब्ल्यूएचओ ट्विटर हैंडल पर जारी किया, ‘दुनिया की आबादी का 10 फीसद से कम वास्तव में इस वायरस के एंटीबॉडी हैं। बेशक कुछ जगहों में, विशेष रूप से बहुत आबादी वाली शहरीं बस्तियों में, जहां 50, 60 फीसद आबादी वायरस के संपर्क में है तो वहां एंटीबॉडीज बन गई होंगी।’

बड़े पैमाने पर प्रतिरक्षा को प्राप्त करने का एकमात्र तरीका टीकाकरण के माध्यम से है, डब्ल्यूएचओ के मुख्य वैज्ञानिक ने जोर दिया। स्वामीनाथन के अनुसार, वर्तमान में स्वीकृत टीके COVID-19 से होने वाली मृत्यु से सुरक्षा प्रदान करते हैं। हल्के रोग और बिना लक्षण वाले कोरोना वायरस संक्रमण के संबंध में टीकों की प्रभावशीलता का अभी भी अध्ययन किया जा रहा है।

बता दें कि 114 मिलियन से अधिक कोरोना वायरस मामलों की पुष्टि विश्व स्तर पर पिछले साल की शुरुआत से हुई है। जॉन्स हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के अनुसार, वैश्विक COVID-19 की मौत का आंकड़ा 2.5 मिलियन से अधिक है।

 

Loading...
IGNITED MINDS