अमेरिकी व भारतीय सैन्य विशेषज्ञों ने साझा की अत्याधुनिक हथियारों की तकनीक

भारत व अमेरिका का संयुक्त सैन्य युद्ध अभ्यास अब चरम की ओर बढ़ गया है। दूसरे चरण में अमेरिकी व भारतीय सैन्य विशेषज्ञों ने अत्याधुनिक हथियारों के संचालन की तकनीक साझा की। आतंकवादियों से काफी करीब से मुठभेड़ या जमीनी जंग के जौरान प्रयुक्त होने वाले 9एमएम पिस्ट (ब्रोइंग) के साथ ही 40एमएम मल्टी शॉट ग्रेनेड लांचर आदि में सैन्य क्षमता का प्रदर्शन किया गया।

चौबटिया सैन्य छावनी क्षेत्र में मंगलवार की सुबह ‘काउंटर इंसर्जेंसी व काउंटर आतंकवाद’ थीम पर भारतीय व अमेरिकी सैनिकों ने अत्याधुनिक व उच्च तकनीक पर आधारित रणकौशल का प्रदर्शन किया। हाइटेक वॉर में इस्तेमाल होने वाले हथियारों का प्रदर्शन व संचालन की तकनीक एक दूसरे से साझा की। 

अमेरिकी सैनिकों ने 240-लीमा लाइट मशीन गन, एमके19 अमेरिकन ग्रेनेड लांचर, एमटूअल्फा सपोर्टिंग मशीन गन (एमएमजी) आदि तमाम अतिविकसित हथियारों के संचालन व आतंकवादियों को नेस्तनाबूद करने के गुर बताए। दोनों गणतांत्रिक देशों का 14वां संयुक्त सैन्य युद्धाभ्यास 29 सितंबर तक चलेगा।

Loading...
IGNITED MINDS