शपथ ग्रहण के तीन दिन बाद प्रधानमंत्री का इस्तीफा

अगर कोई प्रधानमंत्री बिना किसी कारण के अपने कार्यकाल के दूसरे तीसरे दिन ही पद से इस्तीफा दे दे तो ये एक आश्चर्यजनक घटना होगी मगर मिस्र में ऐसा नहीं है. वह यह एक राजनैतिक परंपरा है.  आज से तीन दिन पहले ही राष्ट्रपति अब्देल फतेह अल सीसीने  प्रधानमंत्री शरीफ इस्माइलको उनके दूसरे कार्यकाल की शपथ दिलवाई थी और उसके बाद आज प्रधानमंत्री ने अपनी सरकार का इस्तीफा उन्हें सौंप दिया.अगर कोई प्रधानमंत्री बिना किसी कारण के अपने कार्यकाल के दूसरे तीसरे दिन ही पद से इस्तीफा दे दे तो ये एक आश्चर्यजनक घटना होगी मगर मिस्र में ऐसा नहीं है. वह यह एक राजनैतिक परंपरा है.  आज से तीन दिन पहले ही राष्ट्रपति अब्देल फतेह अल सीसीने  प्रधानमंत्री शरीफ इस्माइलको उनके दूसरे कार्यकाल की शपथ दिलवाई थी और उसके बाद आज प्रधानमंत्री ने अपनी सरकार का इस्तीफा उन्हें सौंप दिया.  प्रधानमंत्री शरीफ इस्माइल का इस्तीफा मिस्र की राजनीतिक परंपरा है जिसमें राष्ट्रपति के नए कार्यकाल की शुरूआत के मौके पर सरकार इस्तीफा देना होता है. राष्ट्रपति के प्रवक्ता बस्सम रदी ने इस्माइल के इस्तीफे का ऐलान किया. उन्होंने बताया कि राष्ट्रपति ने नयी सरकार के गठन तक उन्हें पद पर बने रहने के लिए कहा है. इस्माइल सितंबर 2015 से अब तक देश के प्रधानमंत्री पद पर आसीन है.  अल सीसी और इस्माइल के रिश्ते बेहद प्रगाढ़ माने और जाते है और राष्ट्रपति कई बार प्रधानमंत्री की खुले टूर पर तारीफ कर चुके है. अल-सीसी के इस मौके पर कैबिनेट में बदलाव भी कर सकते हैं. मिस्र वैसे भी अपनी अलग परम्परा के लिए जाना जाता रहा है और यहाँ की धार्मिक और सांस्कृतिक परम्पराएं विश्व भर में प्रसिद्ध है ऐसे में यह राजनैतिक परंपरा भी अपने आपमें अनूठी

प्रधानमंत्री शरीफ इस्माइल का इस्तीफा मिस्र की राजनीतिक परंपरा है जिसमें राष्ट्रपति के नए कार्यकाल की शुरूआत के मौके पर सरकार इस्तीफा देना होता है. राष्ट्रपति के प्रवक्ता बस्सम रदी ने इस्माइल के इस्तीफे का ऐलान किया. उन्होंने बताया कि राष्ट्रपति ने नयी सरकार के गठन तक उन्हें पद पर बने रहने के लिए कहा है. इस्माइल सितंबर 2015 से अब तक देश के प्रधानमंत्री पद पर आसीन है.

अल सीसी और इस्माइल के रिश्ते बेहद प्रगाढ़ माने और जाते है और राष्ट्रपति कई बार प्रधानमंत्री की खुले टूर पर तारीफ कर चुके है. अल-सीसी के इस मौके पर कैबिनेट में बदलाव भी कर सकते हैं. मिस्र वैसे भी अपनी अलग परम्परा के लिए जाना जाता रहा है और यहाँ की धार्मिक और सांस्कृतिक परम्पराएं विश्व भर में प्रसिद्ध है ऐसे में यह राजनैतिक परंपरा भी अपने आपमें अनूठी

Loading...
IGNITED MINDS